अब चाय और नींबू पानी के लिए तरसेंगे कोरोना के संदिग्ध मरीज,खुराक में की गई कटौती

punjabkesari.in Friday, Apr 17, 2020 - 12:44 PM (IST)

 

लुधियाना (सहगल): सिविल अस्पताल में भर्ती कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीजों की खुराक में काफी कटौती की गई है। डाक्टरों का मानना है कि कोरोना वायरस के मरीजों को न्यूट्रीशियन डाइट देना जरूरी है, जिससे उनके शरीर में रोग प्रतिशोधात्मक शक्ति बढ़ सके। अब सिविल हस्पताल में भर्जी मरीजों को तुलसी की चाय या दूध नहीं मिलेगा। नाश्ते में मिलने वाले पनीर सैंडविच को मीनू से निकाल दिया गया है। रोस्टिड मूंगफली मिलना तो दूर मरीज अब नीबू पानी के लिए भी तरसेंगे।

नानवेज मरीजों के मीनू से अंंडे को निकाल दिए गए हैं। अब उनको डाइटीशियन की सलाह से तैयार किए गए मीनू के मुताबिक खाना नहीं मिलेगा, बल्कि जिला प्रशासन की तरफ से तैयार डाइट के हिसाब से खाना दिया जाएगा। हालांकि यह पहले की तरह ही गैर सरकारी संस्था अन्न जल सेवा ट्रस्ट की तरफ से मुहैया करवाया जाएगा। सूत्र बताते हैं कि न तो पहले जिला प्रशासन इस खाने पर कोई आर्थिक योगदान दे रहा था और न अब। सारी सेवा का जिम्मा अन जल सेवा ट्रस्ट और उसके सहयोगियों की तरफ से लिया गया था।  मरीजों के खाने में कटौती किसके कहने पर की गई है, किसी डाइटीशियन की राय ली गई है या नहीं, इस संबंधी कोई भी अधिकारी कुछ नहीं कह रहा।

नए मीनू का ब्योरा

बैड टी-प्रातःकाल 7.30 बजे चाय के साथ बिस्कुट।

ब्रेकफास्ट: सुबह 8.30 बजे चाय के साथ परांठा।

स्नैक्स: 11 बजे फल लंच: 1.30 बजे चार चपाती, सब्जी, दाल, चावल और रायता।

हाई टी: 4.30 बजे चाय के साथ रोस्टिड टोस्ट।

डिनर: 8.00 बजे रात को इसमें दाल-चावल के साथ चार चपाती। रात: 10 बजे हल्दी वाला दूध।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

swetha

Related News

Recommended News