आजादी दिवस पर जेलों में बंद ''कैदी'' निराश, इस बार नहीं मिलेगी कोई रियायत

8/14/2020 9:14:34 AM

लुधियाना(सिआल): पंजाब में हर साल आजादी दिवस पर जेलों में बंद कैदियों में से कुछ को पंजाब सरकार की ओर से सजा में रियायत देकर रिहा किया जाता रहा है। इस संबंधी पंजाब के जेल मंत्री सुखजिन्दर सिंह रंधावा के साथ बात की गई तो उन्होंने स्पष्ट शब्दों में कहा कि आजादी दिवस के अवसर पर किसी भी कैदी को सजा में रियायत नहीं दी जा रही और न ही किसी कैदी को छोड़ा जा रहा है क्योंकि पहले ही कोविड-19 के कारण पंजाब की जेलों में से 10,000 कैदियों को छोड़ा जा चुका है और करीब 3500-4000 कैदी रिहाई के लिए विचाराधीन हैं।

जिक्रयोग्य है कि पंजाब की कुल 25 जेलों में इस समय 23,500 कैदियों को रखने की सामर्थ्यता है और 17,000 कैदी जेलों में हैं। सुप्रीम कोर्ट के दिशा-निर्देशों पर जेलों में सामाजिक दूरी का पालन करना यकीनी बनाने के लिए उच्च स्तरीय कमेटी के फैसले के बाद मार्च से लेकर अब तक 11,500 कैदियों को पैरोल पर छोड़ा गया है।

पंजाब सरकार ने बढ़िया आचरण वाले कैदियों के लिए बनाए एक्ट में संशोधन करके ज्यादा से ज्यादा पैरोल का समय भी 16 हफ्तों के लिए बढ़ा दिया था। अब तक 17,000 कैदियों में से 9000 का कोरोना टैस्ट करवाया जा चुका है, जिनमें से 150 से अधिक पॉजिटिव पाए गए हैं।


Edited By

Sunita sarangal

Related News