सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में पंजाब पुलिस बड़ा दावा, ए.डी.जी.पी. ने किए ये नए खुलासे

punjabkesari.in Thursday, Jun 23, 2022 - 05:21 PM (IST)

चंडीगढ़ : सिद्धू मूसेवाला कत्लकांड में ए.डी.जी.पी. प्रमोद ने बताया कि हत्या के बाद हमने एस.आई.टी. बनाई थी और अब तक इस मामले में 13 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। आज पुलिस ने बलदेव को भी अरैस्ट किया है जिसने केकड़ा की रेकी की थी। मौके से बरामद बौलेरो में हमें एक स्लिप मिली थी, जो फतेहाबाद पैट्रोल पंप की थी, जिसके आधार पर इन आरोपियों को छापेमार करके गिरफ्तार किया गया। पैट्रोल पंप की सी.सी.टी.वी. फुटेज में सारज मिंटू व प्रियव्रत फौजी के सामने आने पर पंजाब पुलिस ने उनके निशाने पर ले लिया था। 

25 मई को ही ये गाड़ियां मूसेवाला गांव में पहुंच चुकी थी और ये लगातार मौके की तलाश में थे, जैसे ही इन लोगों को 29 मई मौका मिला, इन्होंने वारदात को अंजाम दे दिया। सबसे पहले सिद्धू मूसेवाला को सैल्फी लेने के बहाने संदीप केकड़ा द्वारा रोका गया और उसकी पूरी सूचना हमलावरों को दी गई। 

वहीं लारैंस का रिमांड लगातार जारी है। रिमांड के दौरान लारैंस ने कई सारे खुलासे किए हैं यह बात भी सामने आई है कि घटना का मुख्य मास्टरमाइंड वह खुद था।  लारैंस ने जनवरी में ही अपने भाई को जेल से बाहर भेजा था। जांच में यह बात भी सामने आई है कि पिछले साल अगस्त से घटना को अंजाम देने की प्लानिंग चल रही थी। मूसेवाला की रेकी जनवरी में ही शुरू हो गई थी। हमलावर सिर्फ मौके की तलाश में थे। 30 मई को पहली मनप्रीत भाऊ के रूप में पहली गिरफ्तारी हुई थी। 2 महीनों में 147 गैंगस्टर काबू किए गए हैं। पुलिस अधिकारी ने कहा कि जहां तक बाकी फरार शूटरों का सवाल है, इस मुद्दे पर 8-9 टीमें लगातार काम कर रही है। जल्द इनको भी शिकंजे में ले लिया जाएगा। 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Editor

Sanjeev Dixit

Related News

Recommended News