मीटिंग का समय दे नहीं पहुंचा कोई अधिकारी, भड़के अध्यापकों ने फूंका DEO एैलीमैंट्री का पुतला

1/10/2021 1:56:26 PM

मोगा (बिन्दा): लंबे समय से जिले में लंबित एच.टी., सी.एच.टी. की पदोन्नतियों में पिछले डी.ई.ओ. द्वारा रिजर्वेशन नीति व रोस्टर नुक्तों की उल्लंघना करते हुए पदोन्नतियां की गई थी जिसके संबंध में एस.सी.बी.सी. अध्यापक यूनियन द्वारा विभिन्न स्तर पर लिखित रूप में अपना पक्ष रखा गया था। इसी संबंध में गत दिन मौजूदा डी.ई.ओ. एैलीमैंट्री ने जत्थेबंदी को अपना पक्ष रखने के लिए 9 जनवरी को मीटिंग का समय दिया था।
यूनियन के सदस्यों ने बताया कि मीटिंग के दिए समय पर जत्थेबंदी के स्टेट नेता कृष्ण दुग्गा प्रदेश महासचिव व गुरसेवक सिंह कलेर की भी विशेष तौर पर बातचीत के लिए पहुंचे। इसके साथ ही सैकड़ों अध्यापक डी.ई.ओ. एैलीमैंट्री के दफ्तर पहुंचे पर उस समय हद हो गई जब जिला शिक्षा अफसर या उसका कोई भी दफ्तरी कर्मचारी वहां उपस्थित नहीं था और दफ्तर को ताले लगे हुए थे।

जिला अध्यक्ष सुरिंदर सिंह द्वारा फोन पर डी.ई.ओ. के साथ सम्पर्क करने पर उन्होंने बताया कि मीटिंग कैंसल कर दी गई है जबकि इस संबंधी जत्थेबंदी को कोई सूचना नहीं दी गई थी जिसके रोष के तौर पर अध्यापकों ने डी.ई.ओ. एैलीमैंट्री के दफ्तर के बाहर नारेबाजी की तथा डी.ई.ओ. एैलीमैंट्री व नोडल अफसर का पुतला फूंका और चेतावनी दी कि अगर अध्यापकों की पदोन्नतियां जल्द न की गई तो संघर्ष तेज किया जाएगा। इस मौके पर बलजिंदर सिंह धालीवाल, हरजिंदर सिंह पुराने वाला, हरविंदर सिंह मार्शल, अमनदीप सिंह साहोके, अजीतवाल सिंह दौधर, जसवीर सिंह गलोटी, मैडम कंवलदीप कौर पुराने वाला, कमलजीत कौर, जसबीर कौर, जतिंदर कौर, वीर सिंह, विजय मोगा, इंदरदीप सिंह, लखवीर सिंह डाला, अजीतवाल सिंह दौधर, कुलदीप सिंह दातेवाल, सुरिंदर सिंह जफरवाल व अन्य उपस्थित थे।

क्या कहना है डिप्टी डी.ई.ओ. सैकंडरी का
इस संबंधी जब डिप्टी डी.ई.ओ. सैकंडरी राकेश कुमार मक्कड़ से बातचीत की गई तो उन्होंने बताया कि जिला शिक्षा अफसर एैलीमैंट्री जसविंदर कौर को जरूरी काम होने के कारण उन्होंने फोन पर मुझे जहां जाने के लिए कहा जिस पर उन्होंने पहुंच कर यूनियन के पदाधिकारियों को भरोसा दिलाया कि वह अपनी मांगों सबंधी एक मैमोरंडम उनको दें ताकि वह जल्द से जल्द अध्यापकों की मांगों संबंधी जिला शिक्षा अफसर एैलीमैंट्री को अगवत करवाएं तथा उनकी मांगों का पूर्ण तौर पर हल किया जा सके।


Tania pathak

Recommended News