रंधावा ने अकालियों को घेरते पंजाब में कांग्रेस के लिए कही यह बात

punjabkesari.in Monday, Feb 14, 2022 - 12:13 PM (IST)

जालंधर (धवन): पंजाब के उपमुख्यमंत्री सुखजिन्दर सिंह रंधावा ने दोष लगाया कि पंजाब में अकालियों ने लगातार 10 साल राज किया और इन 10 सालों दौरान अकालियों ने राज्य के हर गांव में नशा पहुंचा कर नौजवानों को नशे के आदी बना दिया है। रंधावा ने कहा कि पंजाब में पहले कभी भी नशे का नाम नहीं लिया जाता था और न ही देश-विदेश में किसी ने यह कहा था कि पंजाब में नशा चलता है परन्तु जब राज्यों में शासन की बागडोर नौजवान अकाली नेताओं के हाथ आई तो नशे का प्रसार शुरू हो गया।

यह भी पढ़ेंः CM चन्नी ने पंजाब वासियों के लिए किए यह अहम ऐलान

उन्होंने कहा कि 2017 में लोगों ने एकतरफा वोटों डाल कर अकालियों को सत्ता से एक तरफ किया था क्योंकि हर गांव में नशे की गंभीर समस्या पैदा हो गई थी। लोगों को उम्मीद थी कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह नशा बंद कर देंगे और कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने भी श्री गुरु ग्रंथ साहिब की कसम खा कर नशे को खत्म करने का ऐलान किया था परन्तु साढ़े 4 वर्ष सत्ता में आकर नशे को खत्म करने की दिशा में कोई काम नहीं किया।

यह भी पढ़ेंः PM मोदी की रैली को लेकर जालंधर में कड़े सुरक्षा प्रबंध, चप्पे-चप्पे पर तैनात फोर्स

उसके बाद चन्नी सरकार ने नशे खिलाफ बड़ी मुहिम शुरू की परन्तु उन्हें भी सिर्फ 111 दिन काम करने का मौका मिला। इस दौरान उन्होंने अकाली नेता मजीठिया खिलाफ केस दर्ज करवाया और उसे सुप्रीम कोर्ट तक जमानत नहीं मिली। हाईकोर्ट ने भी केस को ठीक माना है। रंधावा ने कहा कि उन्होंने पंजाब के गांवों को पूरी तरह नशा मुक्त बनाने के लिए वचनबद्ध हैं और यदि लोग उन्हें 5 वर्ष और दें तो नशे की बड़ी मछलियों को बख्शा नहीं जाएगा। 

PunjabKesari

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Urmila

Related News

Recommended News