श्री अमरनाथ यात्रा दौरान श्रद्धालुओं की सेहत को लेकर श्राइन बोर्ड ने लिया अहम फैसला

punjabkesari.in Saturday, Jun 25, 2022 - 01:42 PM (IST)

लुधियाना: 2 वर्ष बाद शुरू होने जा रही श्री अमरनाथ यात्रा के दौरान इस बार यात्रियों को लंगर में तला हुआ खाना, जंक फूड, मीठे व्यंजन और चिप्स नहीं मिलेंगे। श्राइन बोर्ड ने इस तरह के व्यंजनों पर फिर से रोक लगा दी है। दरअसल तीर्थयात्रियों के स्वास्थ्य को देखते हुए श्राइन बोर्ड ने यह फैसला लिया है। यात्रियों की सुविधा के लिए इस बार लंगर में हरी सब्जियां, सलाद, मक्के की रोटी, सादी दाल, वेसन के पूड़े, कम वसा वाला दूध और दही उपलब्ध कराया जाएगा। श्राइन बोर्ड ने भी सभी नगर कमेटियों को पत्र जारी कर इन निर्देशों का पालन करने को कहा है।

विशेषज्ञों के अनुसार, यात्रा के दौरान ऑक्सीजन का स्तर कम होने के कारण पौष्टिक लंगर खाने से यात्रियों को पूरी एनर्जी मिलेगी। पहलगाम से श्री अमरनाथ गुफा के रास्ते में मौसम हमेशा करवट बदलता रहता है। अमरनाथ की पवित्र गुफा के पास पिछले दो दिनों से भारी हिमपात की खबर है। ऐसे में यात्रा में एकाध दिन की देरी हो सकती है। कोरोनाकाल के 2 वर्ष बाद शुरू होने वाली इस तीर्थयात्रा के 2019 में तीर्थयात्रियों की संख्या दोगुनी होकर 3.50 लाख होने की उम्मीद है।

120 संस्थाएं लगाएंगी लंगर
देश भर में से 120 समाज सेवी जत्थेबंदियों द्वारा बालटाल कैंप, बालटाल के डोमेल मध्य, डोमेल रेलपत्तरी, बरारीमार्ग, संगम व पवित्र गुफा से पहलगाम के रास्ते नूनवान, चंदनबाड़ी, चंदनबाड़ी व पिस्सू टॉप के बीच, पिस्सू टॉप, जोजीबल, नागाकोटी, शेषनाग, वावबल, पोशपत्तरी, केलनार, पंचतरणी से पवित्र गुफा पर लंगर लगाए जा रहे हैं। 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Urmila

Related News

Recommended News