राज्य में नशों से हो रही मौतों पर सिद्धू ने पंजाब सरकार को घेरा, जताई चिंता

punjabkesari.in Friday, May 13, 2022 - 11:04 PM (IST)

मजीठा : मजीठा में नशे की ओवरडोज़ के साथ मरने वाले नौजवान सिमरनजीत सिंह (22) पुत्र जसबीर सिंह के परिवार के साथ दुख सांझा करने के लिए पहुंचे पंजाब कांग्रेस के पूर्व प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि पुलिस, नशा स्मगलरों और राजनीतिज्ञों के आपसी गठजोड को तोड़ने से नशों का ख़ात्मा हो सकता है। पिछली दोनों सरकारें इस तालमेल को तोड़ने में असफल रही थीं, जिस करके पंजाब में नशा ख़त्म नहीं हो सका। यदि अब सत्ता पर काबिज़ आम आदमी पार्टी की सरकार पंजाब में से नशों को ख़त्म करने के लिए गंभीर है तो उक्त तालमेल को तोड़ना होगा।

सिद्धू ने कहा कि मौजूदा सरकार के 60 दिनों के कार्यकाल दौरान पंजाब में तकरीबन 60 मौतें हो चुकी हैं, जो चिंता का विषय है। सिद्धू ने पंजाब में नशों के साथ हो रही लगातार मौतें पर चिंता जाहिर करते कहा कि वह पूरी तरह इस मामले की जांच-पड़ताल कर रहे हैं और नशों के साथ मरने वाले व्यक्तियों के घरों में जाकर सभी मामलो की जानकारी ले रहे हैं और आने वाले दिनों में वह इस संबंधी कोई अहम खुलासा करेंगे। 

इस मौके मजीठा के कुछ लोगों ने सिद्धू को मजीठा अंदर सरेआम बिक रहे नशे की लपेट में आ रहे नौजवानों को बचाने की गुहार लगाई, जिनको सिद्धू की तरफ से विश्वास दिलाया गया कि इस मसले को वह ऊपर तक लेकर जाएंगे। इस मौके पूर्व विधायक नवतेज सिंह चीमा, जगविन्दरपाल सिंह जगह मजीठा, आकाशदीप सिंह मजीठा, काऊंसलर नवदीप सिंह सोना, बचित्र सिंह लाली, दिलबाग सिंह, जैपाल महाजन, नीरज शर्मा, पप्पी भल्ला व अन्य कांग्रेसी नेता और वर्कर उपस्थित थे।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Subhash Kapoor

Related News

Recommended News