1984 दंगों में मारे गए सिख परिवारों की जांच के लिए लुधियाना पहुंची SIT

punjabkesari.in Thursday, Mar 24, 2022 - 10:16 AM (IST)

लुधियाना(सलूजा): कानपुर (यू.पी.) से ‘सिट’ की 4 सदस्यीय विशेष टीम आज 1984 दंगों दौरान मारे गए सिख परिवारों की जांच के लिए दंगा पीड़ित वैल्फेयर सोसायटी की महिला विंग की प्रधान बीबी गुरदीप कौर के दुगरी निवास पर पहुंची। इस टीम में प्रभारी सूर्य प्रताप सिंह, नारायण सिंह, राजेश यादव व अनुराग यादव शामिल हैं।

दंगा पीड़ित वैल्फेयर सोसायटी के प्रधान सुरजीत सिंह व महिला विंग की प्रधान बीबी गुरदीप कौर ने बताया कि ‘सिट’ द्वारा अब तक की गई जांच में यह बात सामने आई कि 1984 में कानपुर के अलग-अलग हिस्सों में 127 सिख परिवारों से संबंधित लोगों की मौत हुई है तथा अभी तक 400 से अधिक लोगों के बयान दर्ज हो चुके हैं और इन मामलों में 67 आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज हो चुके हैं। उन्होंने बताया कि यह टीम लुधियाना के बाद जालंधर, मोहाली व आनंदपुर भी जाएगी। प्रधान सुरजीत सिंह व बीबी गुरदीप कौर ने कहा कि समय की सरकारों ने तो दिल्ली समेत देश के अलग-अलग हिस्सों में सिखों के हुए कत्लेआम को दंगों का नाम दिया जबकि दुनिया जानती है कि सिखों को एक साजिश के तहत मारा गया था। इस अवसर पर दलजीत सिंह सोनी व रजिंद्र सिंह भाटिया आदि उपस्थित थे।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vatika

Related News

Recommended News