तारों वाले यंत्रों का मामला, रागी जत्थों ने मायूसी भरे मन से SGPC को कही यह बात

punjabkesari.in Friday, May 27, 2022 - 10:47 AM (IST)

अमृतसर: शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधान एडवोकेट हरजिन्दर सिंह धामी की ओर से सिंह साहिब ज्ञानी हरप्रीत सिंह जत्थेदार श्री अकाल तख्त साहिब की तरफ से 3 मई 2022 को पंज सिंह साहिबान की सभा दौरान के पास किए गुरमता अनुसार सचखंड श्री हरिमन्दर साहिब अंदर पुरातन शैली अनुसार तारों वाले यंत्रों के साथ कीर्तन करने के ऐलान बाद में रागी जत्थों में निराशा और डर पाया जा रहा है। इन शब्दों का परगटावा सचखंड श्री हरिमन्दर साहिब के हजूरी रागी भाई गुरदेव सिंह ने पत्रकारों के साथ एक विशेष मुलाकात दौरान किया।

कुछ सवालों के जवाब देते भाई गुरदेव सिंह ने कहा कि जब वह श्री अकाल तख्त साहिब के आगे अपनी मांगों रखनी थी तो ठीक एक दिन पहले ही हरमोनियम बंद का ऐलान करके तारों वाले यंत्रों बारे गुरमता पास कर दिया गया। उन्होंने कहा कि रागी सिंहों की मांगों की तरफ तो कोई ध्यान नहीं दिया गया परन्तु एक अन्य नया मसला खड़ा कर दिया गया। उन्होंने कहा कि जो वे शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की तरफ से चलाए जा रहे सिख मिशनरी कालेजों में सिखाया गया, उसी तरह वे कीर्तन कर रहे हैं। यदि अब यह कहा जा रहा है कि हरमोनियम एक विदेशी साज है तो पहले ही मिशनरी कालेजों में तारों वाले यंत्रों द्वारा कीर्तन सिखाया जाता।

उन्होंने कहा कि भाई हरिन्दर सिंह और भाई हरजिन्दर सिंह श्री नगर वालों को शिरोमणि कमेटी की तरफ से ही भाई साहिब की उपाधि दी गई, वह भी तो हरमोनियम के साथ ही कीर्तन करते थे। यदि वह सचखंड में हाजिरी भरने के लिए आएंगे तो उनको क्या कहा जाएगा कि आप पहले तारों वाले यंत्र सीखकर आओ। भाई गुरदेव सिंह ने मायूसी भरे मन के साथ कहा कि कोई बात नहीं जितनी देर शिरोमणि कमेटी कहेगी वह कीर्तन करेंगे, जब कहेगी वे बंद कर देंगे। उन्होंने कहा कि जो कीर्तन नहीं करते वह भी तो काम करके प्रसाद छकते हैं वे भी कोई अन्य काम कर लेंगे। 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Urmila

Related News

Recommended News