पंजाब में बड़ा राजनीतिक घटनाक्रम: इस बड़े कांग्रेसी नेता की डेरा ब्यास प्रमुख से मुलाकात

2/27/2021 3:22:21 PM

अमृतसर: राज्य में निकाय चुनावों में बड़ी जीत के बाद पंजाब कांग्रेस प्रभारी और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत शुक्रवार को डेरा ब्यास पहुंचे। एकाएक उनका डेरे जाना कई तरह की राजनीतिक संभावनाओं को लेकर नई चर्चा छेड़ गया है। जालंधर से पर्सनल चार्टर्ड प्लेन के द्वारा रावत ने डेरा प्रमुख बाबा गुरिंदर सिंह ढिल्लों के साथ मुलाकात की। इस बात की पुष्टि हरीश रावत की तरफ से ही की गई है। उनका यह भी कहना है कि मुझे इस पवित्र स्थान पर जाने का मौका मिला है। 

PunjabKesari

गौरतलब है कि पंजाब में डेरा ब्यास के समर्थकों की काफी बड़ी संख्या है तथा डेरा चुनावों में सीधे तौर पर तो नहीं लेकिन अप्रत्यक्ष तौर पर बड़ी भूमिका निभाता है। हरीश रावत ही नहीं पंजाब के कई अन्य राजनीतिक नेता डेरा प्रमुख से समय समय पर मिल कर अपने लिए सहयोग की मांग करते रहते हैं। बेशक डेरे की तऱफ से सीधे तौर पर कभी भी समर्थकों को किसी के पक्ष में वोट डालने के लिए नहीं कहा गया है। पंजाब में निकाय चुनावों में सफलता के बाद वैसे भी कांग्रेस उत्साहित है।

कांग्रेस अब 2022 के चुनावों की तैयारी में जुट गई है जिसमें हरीश रावत अहम भूमिका निभा रहे हैं। रावत नाराज़ नेताओँ को तो मिल ही रहे हैं साथ ही डेरा प्रमुख के साथ मुलाकात कर उन्होंने राजनितक तौर पर बड़ा संकेत दिया है। डेरे में रावत के साथ कैबिनेट मंत्री सुखजिंद्र सिंह रंधावा, विधायक संतोख सिंह भलाईपुर और विधायक बलविन्दर सिंह लाडी भी पहुंचे। हालांकि डेरा प्रमुख को मिलने रावत के साथ सुखजिंदर सिंह रंधावा ही गए। उल्लेखनीय है कि डेरा ब्यास की तरफ से हमेशा ही राजनीति और मीडिया से दूरी रखी जाती है, लेकिन डेरे के प्रभाव के कारण अक्सर ही राजनीतिक शख्सियतें वहां पहुंचतीं रहती हैं। कोविड दौरान यहां हलचल बंद रही।


Content Writer

Vatika

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static