आखिर क्यों नहीं मिल पाती चोरी होने के बाद गाड़ियां?

punjabkesari.in Saturday, May 13, 2023 - 01:47 PM (IST)

फिरोजपुर : 'नजर हटी दुर्घटना घटी' आजकल यह कहावत फिरोजपुर में पार्क की हुई गाड़ियों के ऊपर बिल्कुल सटीक बैठती है। हालात यह है कि आपकी नजर अगर आपके वाहन से कुछ देर के लिए हटी तो फिर या तो वह आपको कभी मिलेगा ही नहीं, अगर पुलिस की मुस्तैदी से मिल भी गया तो चलने के लायक ही नहीं रहेगा।

चोरों के हौसले इतने बुलंद हैं कि आपकी आंखों के सामने ही आपके वाहन को उठाकर ले जाएंगे और आपके पास पुलिस में शिकायत करवाने के अलावा और कोई चारा नहीं रह जाएगा। हालात यह है कि सीमावर्ती जिले में अधिकतर वाहनों के बीमे ही नहीं हैं। इस कारण एक बार चोरी हुआ वाहन दोबारा मिल ही नहीं पाता और यही वाहन शहर के सीमा के बाहर एवं अंदर बैठे डिस्पोजल गाड़ियों का काम करने वाले कबाड़ी के पास बिक जाता है। पुलिस की लापरवाही के कारण ज्यादातर वाहनों की रिकवरी होना मुश्किल हो जाती है। ज्यादातर मामलों में तो पुलिस केस दर्ज नहीं करती, अगर करती भी है तो उसके बाद वाहन नहीं मिलता।

अभी कुछ अभी कुछ दिन पहले ही जलालाबाद के पास एक कबाड़ी पर मोहाली पुलिस की रेड हुई। इसके अंतर्गत सैंकड़ों चोरी के वाहन मौके पर ही पकड़े गए। यह मोहाली पुलिस की मुस्तैदी ही थी कि इस कारण इतनी बड़ी रिकवरी हो पाई, नहीं तो अगर देर हो जाती तो यह वाहन भी पुर्जों में कटकर सरेआम मार्कीट में बिक रहे होते। पुलिस द्वारा इनकी धरपकड़ लगातार जारी है परंतु कुछ स्क्रैप का काम करने वाले के अच्छे रसूख के चलते पुलिस इन पर हाथ नहीं डाल पाती। इन कबाड़ियों के पास सैंकड़ों की तादाद में गाड़ियां खड़ी होती हैं, जिसको आर.सी. के साथ खरीदा हुआ बताते हैं, जबकि असल में यह ज्यादातर असल कागजों की गाड़ियां होती हैं और यह मिनटों-सैकेंडों में ही इनके पुर्जे अलग करके इन्हें बेच दिया जाता है।

डिस्पोजल के नाम पर यह गोरखधंधा बहुत बड़े स्तर पर शहर में चल रहा है। इन स्क्रैप डीलरों के पास सैकड़ों की तादाद में गाड़ी के बोनट, बंपर, इंजन, चैसिस एवं अन्य सामान मिल जाता है जोकि यह अपने दुकानों पर रखकर बेच रहे हैं। सीमावर्ती जिला होने के कारण यहां पर अमूमन पुलिस की गश्त कम होती है, जिसका फायदा यह कबाड़ी उठा रहे हैं। अगर समय रहते पुलिस इन पर दबिश दें तो बहुत बड़े रैकेट का पर्दाफाश हो सकता है।

क्या कहते हैं एस.पी.डी. मनजीत सिंह

एस.पी.डी. मंजीत सिंह से बात की गई तो उन्होंने कहा की माननीय एस.एस.पी. के दिशा निर्देशानुसार पुलिस पूरी तरह से सतर्क है एवं जगह-जगह पर दिन एवं रात की चैकिंग चल रही है। अगर ऐसा कुछ भी जिले में हो रहा है तो इस पर जरूर कड़ी कार्रवाई की जाएगी एवं आरोपी व्यक्तियों को किसी भी हाल में बख्शा नहीं जाएगा।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Urmila

Related News

Recommended News