3 थानों की पुलिस ने सतलुज दरिया पर 6 घंटे तक चलाया सर्च आप्रेशन

12/11/2019 12:24:42 PM

फिल्लौर(भाखड़ी): डी.एस.पी. दविंदर कुमार अतरी के नेतृत्व में 3 थानों फिल्लौर, गोराया, बिलगा की पुलिस पार्टी ने शराब तस्करों को पकडऩे के लिए सतलुज दरिया पर बड़े स्तर पर सर्च आप्रेशन चलाया। पुलिस पार्टी को देख तस्कर अपने जूते वहीं छोड़ किश्तियों में सवार होकर गहरे पानी की तरफ  फरार हो गए। पुलिस ने मौके पर 5 चालू भट्ठियां, लाखों लीटर लाहन, 400 लीटर अवैध शराब, 20 तिरपालें, 10 ड्रम और तस्करों द्वारा शराब निकालने के लिए दरिया पर छुपा कर डाली गई 5 किलोमीटर लंबी पाइप लाइन पकड़ कर उसे नष्ट कर दिया। 6 घंटे तक चले आप्रेशन में पुलिस ने तस्करों की 2 नाव को भी कब्जे में ले लिया।

एक्साइज विभाग के अधिकारी भी रहे शामिल: डी.एस.पी. दविंदर कुमार अतरी ने बताया कि उन्हें पिछले कुछ समय से सूचनाएं मिल रही थीं कि शराब तस्कर दरिया पर बड़ी गिनती में सक्रिय होकर अवैध जहरीली शराब निकालने का कारोबार कर रहे हैं। उन्हें पकडऩे के लिए यह सर्च आप्रेशन चलाया गया जिसमें 3 थानों की पुलिस पार्टी को शामिल किया गया। उन्होंने बताया कि तस्करों का मुख्य सरगना बलबीर सिंह भी दरिया पर मौजूद था जो साथियों के साथ नाव में बैठ कर फरार हो गया। इस सर्च आप्रेशन में पुलिस के साथ एक्साइज विभाग के अधिकारी भी शामिल थे। 

मॉडर्न तकनीक का इस्तेमाल कर रहे  तस्कर: डी.एस.पी. अतरी ने बताया कि तस्कर बहुत ज्यादा शातिर हो चुके हैं। अवैध तस्करी के धंधे में मोटा मुनाफा होता देख तस्करों ने अपने बच्चों और परिवार की महिलाओं को भी इस धंधे में शामिल कर लिया है। इन्होंने अवैध शराब निकालने के लिए तकनीक भी पूरी तरह से बदल ली है। अब ये अवैध शराब कैमिकल से तैयार कर लेते हैं। शराब तैयार होने पर प्रात: होने से पहले ही ये घर में बैठी महिलाओं को संदेश भेज देते हैं और वे घर में टुल्लु पम्प चलाकर दरिया के अंदर से छुपा कर डाली गई पाइप के माध्यम से कुछ ही मिनटों में निकाली गई शराब को बिना कुछ किए अपनी मंजिल तक पहुंचा देते हैं और घर बैठी महिलाएं उस शराब को बोतलों व पालीथीन के लिफाफों में डाल कर ग्राहकों तक पहुंचाने के लिए तैयार कर देती हैं।


Vatika

Related News