पंजाब में 3 नए मेडिकल कॉलेज इसी साल से शुरू: OP सोनी

punjabkesari.in Saturday, Jan 02, 2021 - 06:43 PM (IST)

चंडीगढ़ः पंजाब सरकार राज्य को चिकित्सा शिक्षा का केन्द्र बनाने के लिए तत्पर है और राज्य में तीन नए मेडिकल कॉलेज शुरू किए जा रहे हैं। यह जानकारी चिकित्सा शिक्षा मंत्री ओम प्रकाश सोनी ने आज यहां दी। उन्होंने कहा कि नए मेडिकल कॉलेजों पर कुल लागत तकरीबन एक हजार करोड़ रुपए है। मेडिकल कॉलेज मोहाली इसी साल शुरू किया जाएगा और एम.बी.बी.एस. के दाखि़ले होंगे। यहां नर्सिंग कॉलेज भी बनाया जाएगा। मेडिकल कॉलेज होशियारपुर और कपूरथला के लिए मंजूरी दी जा चुकी है और ये 2022 में शुरू हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि इस साल जल्द ही राजिन्द्रा अस्पताल पटियाला में बर्न यूनिट शुरू की जाएगी और ट्रॉमा सैंटर भी बनाया जाएगा। 

अमृतसर में 120 करोड़ रुपए की लागत के साथ तैयार करवाया जा रहा अत्याधुनिक कैंसर सैंटर इसी साल तक तैयार हो जाएगा। इस सैंटर में डेढ़ सौ बिस्तरों की व्यवस्था होगी। सरकारी मेडीकल कॉलेज अमृतसर में वायरोलॉजी का अलग विभाग शुरू किया जाएगा। सोनी ने बताया कि फरीदकोट में सुपर-स्पैशलिस्टी ब्लॉक और पांच नए ऑपरेशन थियेटर बनाए जा रहे हैं। जलालाबाद में दो और गोइन्दवाल साहिब में एक नया होस्टल बनाया जाएगा और इसके साथ ही फार्मेसी की बिल्डिंग बनाई जा रही है जिसकी लागत लगभग पांच करोड़ रुपए होगी। बाबा फरीद यूनिवर्सिटी के अस्पताल बादल और जलालाबाद में डिप्लोमा कोर्स शुरू किए जा रहे हैं जबकि खेलो इंडिया खेलो स्कीम अधीन 6 करोड़ रुपए की लागत के साथ बाबा फरीद यूनिवर्सिटी फरीदकोट में इन्डोर स्टेडियम बनाया जा रहा है। 

पंजाब सरकार की तरफ से 550 करोड़ रुपए की लागत के साथ मोहाली में स्टेट ऑफ दी आर्ट एडवांस वायरोलॉजी सैंटर की स्थापना के लिए कार्यवाही आरंभ कर दी गई है। जिसमें वायरोलॉजी सम्बन्धी पढ़ाई, रिसर्च और टैस्ट की सुविधा मुहैया करवाई जाएगी। यह प्रोजैक्ट आई.सी.एम.आर. की तरफ से स्वीकृत किया गया है। डैंटल कॉलेज पटियाला और अमृतसर में नए पदों के सृजन के बाद भर्ती की जाएगी। संगरूर में पी.जी.आई. सैटलाईट सैंटर को 2021-22 में मुकम्मल किया जाएगा और सैटलाईट सैंटर फिरोजपुर का निर्माण कार्य शुरू किया जाएगा। आयुर्वेदिक कॉलेज पटियाला में नई पोस्टें बनाकर भर्ती की जाएगी। 

उन्होंने कहा कि गुरू रविदास आयुर्वेदिक यूनिवर्सिटी, होशियारपुर में नया कॉलेज और अस्पताल स्थापित करने का प्रस्ताव है। यूनिवर्सिटी की तरफ से पी.जी.आई चण्डीगढ़ के साथ रिसर्च प्रोजेक्ट शुरू करने के लिए एम.ओ.यू. पर हस्ताक्षर किए गए हैं। चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान विभाग में घर-घर रोजगार स्कीम के तहत चालू साल के दौरान 726 भर्ती करने का प्रस्ताव है जिसमें 142 डॉक्टर, 189 नर्स और 234 टैक्नीशियन शामिल हैं। उन्होंने कहा कि करोना वायरस का मुकाबला करने में पंजाब के चिकित्सा शिक्षा एवं अनुसंधान विभाग ने अहम भूमिका निभाई है जिसके कारण कोरोना से मौतों का आंकडा उतना नहीं गया जितनी आशंका थी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Mohit

Related News

Recommended News