75 साल बाद भाइयों से मिली बहन, 1947 के विभाजन के वक्त थी बिछड़ी

punjabkesari.in Thursday, May 19, 2022 - 09:36 AM (IST)

गुरदासपुर: भारत-पाकिस्तान के विभाजन के समय अपने परिवार से बिछुड़ी एक महिला जो पाकिस्तान में रह गई थी, की मुलाकात करतारपुर कॉरीडोर के चालू होने से करतारपुर साहिब गुरुद्वारे में 75 वर्ष बाद हुई।

सिख परिवार से संबंधित महिला जो अब मुमताज बीबी के नाम से जानी जाती है, के अनुसार भारत-पाकिस्तान विभाजन के समय हुई हिंसा के दौरान वह बहुत छोटी थी तथा लोगों को वह अपनी मां के शव के पास रोती हुई मिली थी। एक व्यक्ति मोहम्मद इकबाल तथा उसकी पत्नी अल्ला रखी ने उसे गोद ले लिया था। 2 वर्ष पहले जब मोहम्मद इकबाल की सेहत अचानक खराब हुई तब उन्होंने बताया कि वह उनकी बेटी नहीं बल्कि किसी सिख परिवार से संबंधित है।

मुमताज बीबी के अनुसार उसने तथा उसके बेटे शाहबाज ने सोशल मीडिया पर अपने परिवार की तलाश शुरू की तो पता चला कि उनका सारा परिवार भारत में जिला पटियाला के गांव सिंदराना में है जो देश के विभाजन के बाद यहां आ बसा था। तब से दोनों परिवार सोशल मीडिया पर आपस में सम्पर्क में थे।  बीते दिनों मुमताज बीबी के भाई गुरमीत सिंह, नरेन्द्र सिंह तथा अमरेन्द्र सिंह परिवार के साथ करतारपुर साहिब गुरुद्वारे में माथा टेकने के लिए गए जहां मुमताज बीबी भी पहुंच गई तथा लगभग 75 वर्ष बाद एक बहन अपने भाइयों से मिल सकी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vatika

Related News

Recommended News