भगवंत मान सरकार बिजली समझौतों को रद्द करने के लिए विधानसभा में लाएगी प्रस्ताव!

punjabkesari.in Thursday, Apr 28, 2022 - 09:09 AM (IST)

जालंधर (धवन): पंजाब में मुख्यमंत्री भगवंत मान के नेतृत्व वाली आम आदमी पार्टी की सरकार द्वारा राज्य विधानसभा में गलत बिजली समझौतों को रद्द करने के लिए प्रस्ताव लाया जाएगा। मुख्यमंत्री के निकटवर्ती सूत्रों ने बताया कि अकाली शासनकाल में बिजली समझौते किए गए थे, जिसके तहत कांग्रेस शासनकाल में यह आरोप लगते रहे कि अकाली सरकार ने महंगे दामों पर बिजली खरीदने को लेकर प्राइवेट कम्पनियोंके साथ समझौते किए हैं।

सरकारी हलकों का मानना है कि कांग्रेस शासनकाल में कै. अमरेन्द्र सिंह पर इन बिजली समझौतों को रद्द करने के लिए कांग्रेस की ओर से दबाव पड़ता रहा था। उसके बाद कुछ कम्पनियों से बिजली समझौतों को चन्नी सरकार के कार्यकाल में रद्द किया गया था परन्तु फिर भी अनेक ऐसे बिजली समझौते हैं जिनकी पुन: समीक्षा करने की जरूरत है। आम आदमी पार्टी ने विधानसभा चुनाव के दौरान कहा था कि वह सत्ता में आने के बाद सभी गलत बिजली समझौतों को रद्द करेगी।

मुख्यमंत्री भगवंत मान ने अब यह स्टैंड लिया है कि पंजाब के हितों के खिलाफ जो बिजली समझौते हुए हैं उन्हें सरकार द्वारा जल्द ही रद्द करने की प्रक्रिया को शुरू किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने इस संबंध में बिजली अधिकारियों से जानकारी लेनी शुरू कर दी है। यह भी कहा जा रहा है कि आने वाले समय में भगवंत मान सरकार बिजली समझौतों को रद्द कर बड़ा धमाका कर सकती है। फिलहाल भगवंत मान सरकार एक-एक करके बड़े कदम उठा रही है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vatika

Related News

Recommended News