सिविल अस्पताल कर्मियों ने खोला खोर्चा, बैठे हड़ताल पर, जानें क्या है वजह

punjabkesari.in Monday, Mar 27, 2023 - 04:16 PM (IST)

लुधियाना (राज): सिविल अस्पताल में काम कर रहे कच्चे मुलाजिम अपनी मांगों को लेकर हड़ताल पर बैठ गए हैं। उन्होंने एस.एम.ओ. को पहले ही 72 घंटे का नोटिस दे दिया था और अपना ज्ञापन डिप्ट कमिश्नर को भी भेज दिया था। काम छोड़ो हड़ताल और धरने पर बैठे कर्मचारियों ने बताया कि अस्पताल प्रबंधन ने इन कर्मचारियों को 2014 में यूजर चार्जेस नीति के तहत आऊट सोर्सिंग पर काम पर रखा था। जिसके एवज में दर्जा चार कर्मचारी को मात्र 4500 रुपए और स्टाफ नर्सों को 6500 रुपए मासिक वेतन दिया जा रहा है। जिससे उनका घर खर्च भी नहीं चलता। कमेटी के सदस्यों ने बताया कि वे पिछले कई सालों से खुद को रैगुलर कराने के लिए जिला प्रशासन, सिविल सर्जन के अलावा राज्य की सरकारों को लिखित रूप से गुहार लगा चुके हैं। लेकिन, अब सेहत विभाग अधिकारी उन्हें विभाग का कर्मचारी ही मानने से इंकार कर रहे है। इसी कारण उन्हें हड़ताल करनी पड़ी। सरकार को खाली पड़े सैक्शन पदों को आऊट सोर्सिंग मुलाजिमों में से ही भरने और रैगुलर होने तक डीसी रेट के अनुसार वेतन देने की मांग पूरी करनी चाहिए। 

इस मौके पर जोबनप्रीत कौर, लवप्रीत कौर, कुलदीप कौर, सलोनी, राजवीर कौर, जगरूप सिंह, प्रभजोत कौर, राजकुमार, हिमांशु, नामदेव, अजय, रवि तिवारी, रजनी, शांति सहित कई कच्चे कर्मचारी मौजूद रहे।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Subhash Kapoor

Related News

Recommended News