कैप्टन ने प्रधानमंत्री को पत्र लिख किसान मसले का हल करने की अपील की

7/17/2021 11:56:41 AM

 चंडीगढ़/जालंधर(अश्वनी, धवन): पंजाब के मुख्यमंत्री कै. अमरेंद्र सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिख किसान संघर्ष मसले का बातचीत के जरिए जल्द हल निकालने की अपील की है। इस संबंध में खालिस्तानी जत्थेबंदियों द्वारा कुछ किसान नेताओं को निशाना बनाने की योजना और आई.एस.आई. की शह पर ड्रोन गतिविधियों और सरहद पार के खतरों का हवाला दिया है।

उन्होंने प्रधानमंत्री से आंदोलनकारी किसानों के साथ तुरंत बातचीत शुरू करने और सकारात्मक प्रयास करने की अपील की है। उन्होंने प्रधानमंत्री के साथ विचार-चर्चा के लिए राज्य से सर्वदलीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व करने का प्रस्ताव भी रखा है जिससे लंबे समय से चल रहे किसान आंदोलन की समस्या का स्थायी और सुखद हल निकाला जा सके। उन्होंने कहा कि लंबे समय से चल रहा आंदोलन सामाजिक ढांचे के लिए खतरा बनने के साथ-साथ आर्थिक सरगर्मियों को भी प्रभावित कर रहा है। पत्र में कै. अमरेंद्र ने सचेत करते हुए कहा कि राज्य के साथ लंबी अंतर्राष्ट्रीय सरहद लगती होने के कारण उस पार की ताकतें किसानों के भड़के जज्बातों के साथ खेलने की कोशिश कर सकती हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘चाहे स्थिति अभी काबू में है  परंतु उन्हें डर है कि कुछ राजनैतिक पाॢटयों की  भड़काऊ  बयानबाजी अमन-कानून की स्थिति की समस्या खड़ी कर सकती है। राज्य में अमन-शांति को  नुक्सान पहुंच सकता है।’ मुख्यमंत्री ने यह पत्र खेती कानूनों को लेकर पंजाब में बढ़ रहे गुस्से के मद्देनजर लिखा है। यह पत्र पंजाब में भारत-पाक सरहद के 5-6 किलोमीटर में पड़ते गांवों के साथ ड्रोन गतिविधियां बढऩे और पाकिस्तान की तरफ से भारत को हथियारों और हैरोइन की खेपें भेजने के संदर्भ में लिखा है।  खुफिया रिपोर्टों में संकेत दिया गया है कि पंजाब के विधानसभा चुनाव कुछ महीनों बाद होने के कारण आई.एस.आई. के नेतृत्व वाली खालिस्तानी और कश्मीरी आतंकवादी जत्थेबंदियां निकट भविष्य में राज्य में आतंकी कार्रवाई की योजना बना रही हैं। अमरेंद्र ने पत्र में कहा कि पंजाब चुनाव से पहले सरहद पार से आतंकवाद के बढ़ते खतरे के मद्देनजर किसान मसले का हल करने के लिए जल्द कदम उठाए जाएं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vatika

Recommended News

static