कोरोना हब बन सकता है लुधियाना, 55 मामलों की हुई पुष्टि, 1 की मौत

7/2/2020 10:51:38 PM

लुधियाना (सहगल): महानगर में पिछले 3 दिनों से कोरोना वायरस के 120 के लगभग मामले आ चुके हैं। जिस तरह से मामले बढ़ रहे हैं, विशेषज्ञों का मानना है कि आने वाले दिनों में लुधियाना कोरोना हब बन सकता है। आज शहर के अस्पतालों में 55 नए मामले सामने आए हैं। इनमें 3 दूसरे जिलों के तथा 52 मामले लुधियाना से संबंधित हैं। अब तक शहर से संबंधित 917 पॉजीटिव मरीज सामने आ चुके हैं तथा 22 मरीजों की मौत हो चुकी है। इसके अलावा 201 पॉजीटिव मरीज ऐसे हैं जो दूसरे जिलों या राज्यों से संबंधित हैं। इनमें में 24 मरीजों की मौत हो चुकी है। सी.एम.सी. अस्पताल में आज 60 वर्षीय महिला ने कोरोना वायरस के चलते दम तोड़ दिया। 

उपचार कर रहे डॉक्टरों के अनुसार उक्त महिला को हेपेटाइटिस-बी, ब्लड प्रैशर तथा किडनी संबंधित रोग भी थे। आज सामने आए मरीजों में अधिक्तर मरीज माया नगर, राम नगर,फोकल प्वाइंट, दुगरी, इकबाल गंज, शिवपुरी, हबीबगंज, फतेहगढ़ मोहल्ला, मोती नगर ,थरीके, मॉडल टाऊन, श्याम नगर, दीपनगर, बसंत कॉलोनी, भाई रणधीर सिंह नगर, आनंद विहार, अमर नगर, तिलक नगर आदि क्षेत्रों से संबंधित हैं। इसकी पुष्टि स्टेट नोडल ऑफिसर राजेश भास्कर ने की है।

1158 मरीजों की रिपोर्ट है पैंडिंग
स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार 1158 मरीजों की रिपोर्ट पैंडिंग है जिनके नतीजों का इंतजार है, जबकि 1011 सैंपल आज जांच के लिए भेजे गए हैं।

195 लोगों को किया क्वारंटाइन
स्वास्थ्य विभाग की टीमों द्वारा आज जांच व स्क्रीनिंग करने के उपरांत 195 लोगों को संदिग्ध मरीज मानते हुए क्वारंटाइन में भेज दिया है। स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार इन्हें विभिन्न स्थानों पर बने आइसोलेशन सैंटरो में क्वारंटाइन किया गया है।

अधिकारियों की चिंता बढ़ी
कोरोना वायरस के दिन प्रतिदिन बढ़ते मामलों को देखते हुए स्वास्थ्य अधिकारियों की चिंता बढऩी स्वभाविक है। पहले बंद किए गए आइसोलेशन सैंटरों को फिर से शुरू करने पर विचार किया जा रहा है, जबकि ठेके पर रखे गए डॉक्टर व पैरा मैडीकल स्टाफ के लोगों को जिन्हें पहले हालात ठीक होते देखते हुए जवाब दे दिया गया था, अब फिर से बुलाया जाने लगा है । उल्लेखनीय है कि शहर के अस्पतालों में दूसरे जिलों व राज्यों से काफी संख्या में लोग आकर भर्ती हो रहे हैं। अब तक शहर के अस्पतालों में 1118 लोग पॉजीटिव आ चुके हैं जबकि कुल 46 लोगों की मौत हो चुकी है । इनमें 201 मरीज बाहरी जिलों व राज्य से संबंधित हैं । इनमें से 24 मरीज अकाल मृत्यु का शिकार हो चुके है।


Mohit

Related News