पिछले 4 दिन से बस अड्डे पर बैठ बिहार जाने की राह देख रहे प्रवासी मजदूर

punjabkesari.in Tuesday, May 19, 2020 - 02:19 PM (IST)

मोगा (गोपी राऊके, विपन): पूरे पंजाब में लगभग 50 दिन से पर कर्फ़्यू के बाद 18 तारीख को खत्म किया गया है। 18 तारीख से लॉकडाउन होने के बाद पंजाब सरकार की तरफ से काफ़ी हद तक ढील दी गई है परन्तु ढील के बावजूद भी प्रवासी मज़दूरों का वापिस जाना जारी है। यदि मोगा की बात की जाए तो मोगा में लगभग 200 के करीब प्रवासी मज़दूर 4 दिनों से बस स्टैंड में बैठ कर अपने राज्य बिहार जाने का इंतजार कर रहे हैं।

बातचीत करते हुए मज़दूरों ने कहा कि पिछले 4 दिनों से वह बस स्टैंड पर बैठ कर इंतजार कर रहे हैं कि कब प्रशासन की तरफ से उनको बिहार में भेजा जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रशासन की तरफ से दो बार बसों के ज़रिये फ़िरोज़पुर भेजा गया था परन्तु वे वापिस मोगा बस स्टैंड उतार कर चले गए। उन्होंने कहा कि आज सुबह उन की तरफ से रोड जाम किया गया था परन्तु पुलिस प्रशासन ने भरोसा दिया था कि जल्दी सबंधित आधिकारियों के साथ बात करके उन का हल निकालेंगे। मज़दूरों ने चेतावनी दी है कि यदि 4 बजे तक कोई हल नहीं होता तो वह हाईवे जाम करेंगे। उन्होंने कहा कि समाजसेवी संस्थायों और प्रशासन की तरफ से खाना उनको मिलता है परन्तु बार -बार वह यह ही मांग कर रहे हैं कि जल्द से जल्द उन्हें  बिहार में भेजा जाए।

इस मौके पर पहुंचे तहसीलदार मनिन्दर सिंह ने बताया कि प्रशासन की तरफ से दो बार इन को फ़िरोज़पुर भेजा गया था परन्तु ट्रेन रद्द होने के कारण इन को  मोगा भेज दिया गया। साथ ही उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार की तरफ से रेल गाड़ियों का इंतजाम किया जाना है। इसमें ज़िला प्रशासन कुछ नहीं कर सकता। उन्होंने बताया कि प्रशासन की तरफ से उन को भोजन मुहैया करवाया जा रहा है और उन्होंने यह भी भरोसा दिलाया है कि कल शाम तक इन मज़दूरों को बिहार भेज दिया जायेगा। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Edited By

Tania pathak

Related News

Recommended News