नैशनल टैस्टिंग एजैंसी ने घोषित किया ‘जे.ई.ई. Mains:2020’ (जनवरी) का रिजल्ट

1/19/2020 9:57:51 AM

पटियाला/ जालंधर(प्रतिभा/ विनीत): नैशनल टैस्टिंग एजैंसी द्वारा जनवरी माह में ली गई जे.ई.ई.(ज्वाइंट एन्ट्रैंस एग्जामिनेशन ) मेन्स-2020  की परीक्षा का रिजल्ट शुक्रवार देर रात जारी हुआ, जिसमें महानगर के विभिन्न स्कूलों के स्टूडैंट्स ने अपना शानदार पर्सैन्टाइल पाकर सफलता हासिल की। एग्जाम क्लीयर करने वाले स्टूडैंट्स को उनके पेरैंट्स के अतिरिक्त स्कूल प्रिंसीपल व शिक्षकों ने भी बधाई दी। उल्लेखनीय है कि जनवरी तथा अप्रैल में होने वाले उक्त मेन्स एग्जाम के पश्चात अपने बैस्ट स्कोर के आधार पर स्टूडैंट्स जहां 19 मई को होने जा रहे जे.ई.ई. एडवांस टैस्ट के लिए क्वालीफाई करते हुए देशभर के 31 नैशनल इंस्टीच्यूट ऑफ टैक्नोलॉजी (एन.आई.टी.), 25 इंडियन इंस्टीच्यूट्स ऑफ इन्फार्मेशन टैक्नोलॉजी (आई.आई.टी.) सहित 28 केन्द्र सरकार द्वारा फंडिड टैक्नीकलं संस्थानों में दाखिला पा सकेंगे। 

स्मार्ट फोन और सोशल मीडिया से दूर रहते हुए उज्ज्वल मेहता ने जे.ई.ई. (ज्वाइंट एंट्रैंस एग्जामिनेशन) मेन -2019 के रिजल्ट में पंजाब और चंडीगढ़ में फर्स्ट रैंक हासिल किया है। वहीं नतीजों के मुताबिक उज्ज्वल का देश में 10वां रैंक बन रहा है। आई.आई.टी. मुंबई से कंप्यूटर साइंस में पढ़ाई करने का इरादा रखने वाले उज्ज्वल अब जे.ई.ई. एडवांस की तैयारी में जुट चुके हैं। घोषित हुए परिणाम में महानगर के सतकरतार नगर निवासी व एक प्राइवेट कंपनी में बतौर एडमिन कार्यरत नवीन कुमार मेहता के सुपुत्र उज्ज्वल मेहता ने 99.99 पर्सैन्टाइल हासिल करके राज्य भर में टॉप किया, जबकि ए.पी.जे. स्कूल, महावीर मार्ग के छात्र अवल एमिल व तनिष गुप्ता ने 99.98, सार्थक अरोड़ा ने 99.95, हॢषत वर्मा ने 99.91, अनिकेत सुखीजा ने 99.78, आयुष गुप्ता ने 99.75, सक्षम अग्रवाल ने 99.73, गौरव जैन ने 99.64, अनुरुद्ध कुमार ने 99.57, समनदीप ने 99.49, कशिश महाजन ने 99.48, सुविधि मल्होत्रा ने 99.47, पार्थ नंदा ने 99.09, अच्युत नंदा ने 97.91, नमन भाटिया ने 97.4, ध्रुव चौडा ने 97.2, भावेश गुप्ता ने 95.8 पर्सैन्टाइल प्राप्त करके सफलता पाई।    
     
11 लाख स्टूडैंट्स ने दिया था एग्जाम
इसी वर्ष जनवरी में हुई जे.ई.ई. मेन्स परीक्षा में देशभर के 11 लाख भावी इंजीनियरिंग, आॢकटैक्चर व प्लाङ्क्षनग के स्टूडैंट्स ने अपना भाग्य आजमाया था। जनवरी में हुई उक्त परीक्षा के परिणाम के पश्चात अब 3 से 9 अप्रैल, 2020 तक होने वाली जे.ई.ई. मेन्स परीक्षा की प्रक्रिया शुरु होगी। दोनों मेन्स परीक्षाओं के तहत जिसमें भी स्टूडैंट्स की पर्सैन्टाईल बेहतर होगी, उसके आधार पर वे मई में होने वाली जे.ई.ई. एडवांस परीक्षा के लिए क्वालीफाई करेंगे। 

‘रितिक रोशन की मूवी ‘सुपर-30’ ने किया मोटीवेट’
‘एक निजी कंपनी में कार्यरत एवं सत करतार नगर निवासी नवीन कुमार मेहता व सीमा मेहता (गृहिणी) के सुपुत्र उज्ज्वल मेहता ने 99.99 पर्सैन्टाइल प्राप्त कर जहां राज्य भर में टॉप किया, वहीं जालंधर में भी शीर्ष स्थान पाया। उज्ज्वल ने पटियाला के आई क्वैस्ट इंस्टीच्यूट से अपनी तैयारी करके उक्त सफलता पाई। 10वीं में उज्ज्वल ने 97.8 फीसदी अंक पाए थे व अभी अपोलो पब्लिक स्कूल, पटियाला से 12वीं में पढ़ रहे हैं। 
PunjabKesari, jee-main-2019-result-out
उज्ज्वल ने बताया कि रितिक रोशन की फिल्म सुपर-30 ने उन्हें आगे बढ़ने के लिए काफी मोटीवेट किया, जब भी स्ट्रैस हावी होने लगता तो वह मूवीज देखकर उसे दूर भगाता। इसके अलावा अपने फ्रैंड्स के साथ बैडमिंटन खेलना उसकी डेली रूटीन में शामिल है। उज्ज्वल ने बताया कि वह न तो व्हाट्स-अप चलाता है और न ही फेसबुक, इंस्टाग्राम अकाऊंट का यूज करता है। अभी कुछ समय पहले ही घर वालों के कहने पर मोबाइल का प्रयोग करना शुरु किया है, परन्तु उसमें भी वह इंटरनैट का प्रयोग बिल्कुल भी नहीं करता। उसने बताया कि उसने सोचा हुआ था, कि जे.ई.ई. एग्जाम में अच्छे नंबर पाकर सफलता हासिल करना है। इसके लिए उसने अपने घर वालों से भी दूरी बनाए रखी और अगर कुछ बहुत कुछ जरूरी होता, तभी उनसे बात करता। 

उज्ज्वल ने बताया कि मैथ्स उसका फेवरिट सब्जैक्ट रहा है, इसी कारण उसने जहां फिजिक्स में 99.97, कैमिस्ट्री में 99.99 सहित मैथ्स में 100 पर्सैन्टाइल  प्राप्त किए हैं। उसने अपनी सफलता का श्रेय अपने टीचर्स सहित परिवार को दिया। 

क्या है पर्सैन्टाइल?
पर्सैन्टाइल का अर्थ है कि आपको कितने स्टूडैंट्स से ज्यादा अंक हासिल हुए हैं। अगर आपका पर्सैन्टाइल 60 फीसदी है, तो इसका मतलब है कि आपने 60 फीसदी उम्मीदवारों से सबसे अधिक अंक पाए हैं। 

ऐसे काऊंट होता है ‘पर्सैन्टाइल’
पर्सैन्टाइल काऊंट करने का तरीका है कि 100 * किसी ग्रुप में सर्वाधिक अंक लाने वाले कैंडिडेट से कम अंक लाने वाले स्टूडैंट्स की कुल संख्या/ ग्रुप के कुल कैंडिडेट की संख्या। उदाहरण के लिए किसी छात्र को 70 फीसदी अंक मिले हों और 70 फीसदी से कम मार्क्स लाने वाले स्टूडैंट्स की कुल संख्या 15 हजार है, जबकि ग्रुप में कुल स्टूडैंट्स की संख्या 18 हजार थी तो ऐसे काऊंट होगा  
100*15000/18000=83.33 पर्सैन्टाइल

बड़े भाई ने किया प्रेरित
जालंधर के उज्ज्वल के पिता नवीन कुमार मेहता प्राइवेट जॉब करते हैं और मां सीमा मेहता हाऊस वाइफ हैं। उज्ज्वल ने बताया कि उन्हें जे.ई.ई. के लिए उनके बड़े भाई ने प्रेरित किया जोकि खुद डॉक्टरी की पढ़ाई कर रहे हैं और उनका भी आखिरी सैमेस्टर है। उन्हें अपने परिवार से हमेशा ही सहयोग मिला है और स्कूल में फिजिक्स के टीचर उन्हें प्रेरित करते हैं। हर रोज 6 से 7 घंटे की पढ़ाई और छुट्टी वाले दिन 10 घंटे तक पढ़ाई करने का ही नतीजा है कि वह नंबर वन रैंक हासिल कर पाए हैं। मई में होने वाली जे.ई.ई. एडवांस की तैयारी भी पहले वाले निर्धारित समय के मुताबिक करेंगे। 


Edited By

Sunita sarangal

Related News