सिख्स फॉर जस्टिस के मुद्दे पर विरोधी दलों ने साधा निशाना

punjabkesari.in Thursday, Nov 25, 2021 - 10:57 AM (IST)

चंडीगढ़ (रमनजीत): भारत सरकार द्वारा प्रतिबंधित व आतंकवादी गतिविधियों में शामिल घोषित संगठन सिख्स फॉर जस्टिस के पदाधिकारी के रिश्तेदार को पंजाब सरकार के उपक्रम में पदाधिकारी लगाने के मामले पर राजनीतिक भूचाल आ गया है। विरोधी दलों के नेताओं ने न सिर्फ मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को निशाने पर लिया है, बल्कि कांग्रेस आलाकमान से भी इस देश विरोधी मामले में स्पष्टीकरण देने की मांग की है। ध्यान रहे कि एस.एफ.जे. के पदाधिकारी के नजदीकी रिश्तेदार को पंजाब सरकार के एक उपक्रम जैनको का पदाधिकारी नियुक्त किया गया है, जिसको लेकर विगत दिवस शिअद के प्रधान सुखबीर सिंह बादल द्वारा पंजाब सरकार पर तीखा हमला बोला गया था।  

यह भी पढ़ेंः अटारी बॉर्डर पर अफगानी प्याज के ट्रक में मिला ऐसा सामान, खाली करवाने पड़े सभी दफ्तर

क्या राहुल को संगठन की गतिविधियों का पता नहीं: सुखबीर 
लगातार दूसरे दिन सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि वह स्पष्ट तौर पर राहुल गांधी से जैनको लिमिटेड में चेयरमैन लगाए गए बलविंद्र सिंह कोटलाबामा के मामले में जवाब चाहते हैं। ऐसी क्या वजह है कि देश विरोधी करार दिए गए संगठन के कुख्यात पदाधिकारी के नजदीकी रिश्तेदार को पंजाब सरकार द्वारा अपने अधीन उपक्रम में महत्वपूर्ण पद पर बैठाया गया है। क्या राहुल गांधी व कांग्रेस के अन्य नेताओं को इस बात की जानकारी ही नहीं है कि सिख्स फॉर जस्टिस नामक संगठन की क्या गतिविधियां रही हैं।

यह भी पढ़ेंः मनीष सिसोदिया ने पंजाब के व्यापारियों से किया यह वादा

सिर्फ निजी हितों के लिए ही काम कर रहे कांग्रेस के नेता: शर्मा
भाजपा के महासचिव डा. सुभाष शर्मा ने कहा कि एक तरफ पंजाब कांग्रेस प्रधान नवजोत सिंह सिद्धू हैं जोकि पाकिस्तान आर्मी चीफ जनरल बाजवा को जफ्फी डालते हैं। वहीं, दूसरी तरफ मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी आतंकी संगठन एस.एफ.जे. के पदाधिकारी के रिश्तेदार को सरकारी संस्थान में चेयरमैन का पद देते हैं। डा. शर्मा ने कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि कांग्रेस के नेता राष्ट्रहित को भूलकर सिर्फ और सिर्फ निजी हितों के लिए ही काम कर रहे हैं। 

यह भी पढ़ेंः अटारी बॉर्डर पर अफगानी प्याज के ट्रक में मिला ऐसा सामान, खाली करवाने पड़े सभी दफ्तर

गलत व देश विरोधी फैसला: मलविंद्र कंग 
आम आदमी पार्टी के प्रदेश महासचिव मलविंद्र सिंह कंग का कहना है कि एस.एफ.जे. वही संगठन है जो लगातार पंजाब में सिखों व हिंदुओं के बीच टकराव पैदा करने का प्रयास करता रहा है। इसी आतंकी संगठन के अंतर्राष्ट्रीय सरगना गुरपतवंत सिंह पन्नू, जोकि न तो खुद सिख है और न ही हिंदू है जिस पर कई सवाल खड़े होते हैं। इसी तरह उसी संगठन के महासचिव के भाई को पंजाब सरकार ने जैनको का चेयरमैन लगाया है, यह बहुत ही गलत व देश विरोधी फैसला है।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kalash

Related News

Recommended News