पुलिस ने बिश्नोई गिरोह के 2 सदस्यों को किया गिरफ्तार, पिस्टल सहित सफारी गाड़ी बरामद

punjabkesari.in Thursday, Apr 07, 2022 - 09:51 PM (IST)

मोहाली (हरप्रीत सिंह जस्सोवाल): विवेक शील सोनी, आई.पी.एस., वरिष्ठ पुलिस कप्तान, एस.ए.एस. नगर, मोहाली ने एक प्रेस नोट में कहा कि मोहाली पुलिस ने सक्रिय गैंगस्टरों के खिलाफ एक विशेष अभियान शुरू किया है। मोहाली पुलिस को एक बड़ी सफलता तब मिली जब कनाडा बैठे विदेशी हैंडलर सतविंदर सिंह उर्फ ​​गोल्डी बराड़ और लारैंस बिश्नोई ग्रुप के 2 एक्टिव गैंगसरों को गिरफ्तार कया है। बिश्नोई ग्रुप को पूरे में चले रहे मनप्रीत सिंह उर्फ मन्ना पुत्र सुखमंदर सिंह और उनके एक करीबी सहयोगी गुरप्रीत सिंह पुत्र गुरतेज सिंह निवासी दाना मंडी भीखी, जिला मानसा को बीती रात गिरफ्तार किया गया और उनके पास से एक पिस्टल और एक सफेद सफारी गाड़ी  बरामद की है। 

पुलिस कार्रवाई की जानकारी देते हुए वरिष्ठ पुलिस कप्तान, मोहाली ने पुलिस की कार्रवाई बारे बताते हुए बताया कि 4 अप्रैल को मोहाली पुलिस को तकनीकी और मैनुअल इनपुट प्राप्त हुआ कि लॉरेंस बिस्नोई और सतविंदर सिंह उर्फ ​​गोल्डी बराड़ के कैद साथी मनप्रीत सिंह मन्ना पुत्र सुखमंदर सिंह निवासी तलवंडी साबो बठिंडा से पूरे पंजाब में अपने गिरोह का संचालन कर रहा है। अपने सहयोगियों के साथ ट्राईसिटी क्षेत्र में ठिकाने स्थापित कर रहा है। सदर कुराली थाने में केस क्रमांक 90/2021 ए/डी 25 एम्युनिशन एक्ट के तहत वांछित गैंगस्टर मनप्रीत सिंह उर्फ ​​मन्ना को प्रोडक्शन वारंट पर लाया गया और पुलिस रिमांड के दौरान गहराई से पूछताछ की गई। पूछताछ की गई तो मनप्रीत सिंह मन्ना ने पुलिस को उसके ग्रुप की क्रीमीनल योजनाएं बारे बताय तथा यह भी बताया कि कनाडा में बैठे गोल्डी बराड़ने उसको और उसके साथियों को गुरु ग्राम के नजदीक से 3 पिस्तौल दिलाए थे। इनमें से एक 30 बोर, एक 32 बोर और एक 315 बोर की थी। मन्ना ने पूछताछ दौरान गोल्डी बराड़ तथा लारैंस बिश्नोई और लॉरेंस बिश्नोई ने समूह के लक्ष्यों के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की।

सोनी ने आगे कहा कि पुलिस ने मनप्रीत सिंह द्वारा दी गई सूचना के आधार पर बारीकी से जांच को आगे बढ़ाया गया। पुलिस ने जलवायु टावर नजदीक नाकाबंदी दौरान बिश्नोई ग्रुप के मनप्रीत सिंह मन्ना ने करीबी गुरप्रीत सिंह पुत्र गुरतेज सिंह निवासी दाना मंडी भीखी जिला मानसा को सफेद टाटा सफारी गाड़ी  से गिरफ्तार किया गया था। उससे खरड़ थाना पुलिस ने 32 बोर सहित 6 राउंड गोला बारूद व 315 बोर की पिस्टल सहित 2 कारतूस बरामद करके उसको गिरफ्तार कर लिया है। जांच से यह भी पता चला कि गुरप्रीत सिंह 2014 से 2020 तक पंजाब की विभिन्न जेलों में पहले से ही हत्या के मामले  में 28.11.2014 अधीन धारा आई.पी.सी. थाना भीखी जिला मानसा में 2014 से 2020 तक पंजाब की अलग-अलग जेलों में बंद रहा है। इस समय दौरान उसने लारैंस बिश्नोई ग्रुप के  गैंगस्टरों से सम्पर्क कायम कर लिया है। जिसकी गहराई से पूछताछ की जा रही है। पुलिस को और अहम खुलासों की उम्मीद है।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kamini

Related News

Recommended News