BBMB मुद्दे के बाद अब CITCO को लेकर गर्माया पंजाब का राजनीतिक माहौल

punjabkesari.in Sunday, Mar 06, 2022 - 10:51 AM (IST)

चंडीगढ़ (अश्वनी): चंडीगढ़ इंडस्ट्रियल एंड टूरिज्म डेवलपमेंट निगम (सिटको) के मैनेजिंग डायरेक्टर की पोस्ट पर यू.टी. कैडर की अधिकारी पूर्वा गर्ग की नियुक्ति के साथ पंजाब का राजनीतिक माहौल गर्मा गया है। इस पद पर पंजाब के आई.ए.एस. की दावेदारी रही है पर बीते दिनों पंजाब की आई.ए.एस. जसविंदर कौर को पद से मुक्त कर इस पद की जिम्मेदारी यू.टी. कैडर की आई.ए.एस. पुर्वा गर्ग को दे दी गई है। बताया जा रहा है कि इस पद को भरने के लिए चंडीगढ़ प्रशासन ने पंजाब से कई बार अधिकारियों के नाम मांगे पर पंजाब ने कोई पैनल नहीं भेजा।

यह भी पढ़ें : 10 मार्च को खत्म नहीं बल्कि पंजाब में शुरू होगा चयन का दौर, जानें क्यों

शिरोमणि अकाली दल के प्रधान सुखबीर सिंह बादल ने इस मसले को लेकर कांग्रेस पर सीधा हमला बोला है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि वह पंजाब कैडर के आई.ए.एस. अधिकारी को सिटको एम.डी. के रूप में बदलने और यू.टी. कैडर अधिकारी के पद को भरने के चंडीगढ़ यू.टी. के फैसले का सख्त विरोध करते हैं। इससे भी ज्यादा हैरानी वाली बात यह है कि पंजाब में कांग्रेस सरकार ने इस पद को भरने के लिए पंजाब के अधिकारियों के नाम तक नहीं भेजे। कांग्रेस हमेशा केंद्र के साथ पंजाब के हितों को अनदेखा करने की साजिश रचती है और बाद में जानबुझ कर समय पर कार्यवाही करने से इंकार करते विरोध का नाटक करती है। अकाली दल पंजाब के हितों पर इस ताजा घाव का गवाह नहीं बनेगा।

यह भी पढ़ें : आवारा कुत्तों के झुंड ने 3 वर्षीय बच्ची को नोच-नोच कर मार डाला

इससे पहले चंडीगढ़ में पंजाब सिविल सर्विसेज /हरियाणा सिवल सर्विसेज की जगह पहली बार दिल्ली, अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह, लक्षद्वीप, दमन और दीव और दादरा और नगर हवेली सिविल सेवा कैडर के 3 अधिकारियों की नियुक्ति की गई थी, जिस पर भी राजनीतिक घमासान हुआ था। इस कड़ी में भाखड़ा ब्यास प्रबंधन बोर्ड के नियमों में बदलाव का मामला भी सुर्खियों में है। ऐसे में इस ताजा मामले ने एक बार फिर पंजाब की कमजोर हो रही दावेदारी को ले कर नई बहस छेड़ दी है।

यह भी पढ़ें : गुरदासपुर में बड़ी वारदातः होटल में बैठे नौजवानों पर चलाई ताबड़तोड़ गोलियां, 1 की मौत

उधर, चंडीगढ़ प्रशासन के स्तर पर कहा जा रहा है कि पंजाब की तरफ से अधिकारियों का पैनल ही नहीं भेजा जा रहा। सिटको एम.डी. का पद भरने के लिए कई महीने पहले पंजाब को पत्र भेजा गया और अधिकारियों का पैनल मांगा गया। कई दिनों तक कोई जवाब नहीं आया तो फिर रिमाइंडर भेजा गया। प्रशासन के एक अधिकारी ने बताया कि इस पद को भरने के लिए पंजाब को कुल 8 बार रिमाइंडर भेजा गया है। आखिरी रिमाइंडर 25 फरवरी को भेजा गया, उसके बाद भी पंजाब ने नाम नहीं भेजे। इसलिए यू.टी. प्रशासन ने जसविंदर कौर को सिटको एम.डी. के पद से कार्य मुक्त कर यह पद यू.टी. कैडर की आई.ए.एस. पुर्वा गर्ग को सौंपा है।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kalash

Related News

Recommended News