पावरकॉम की बड़ी कार्यवाही, बिजली चोरी के मामले वसूला 89 लाख जुर्माना

punjabkesari.in Monday, May 23, 2022 - 05:41 PM (IST)

जालंधर (पुनीत): पावरकाम ने बिजली बचाओ मुहिम के अंतर्गत छुट्टी वाले दिन बड़ा एक्शन लेते हुए सुबह ही बड़ी कार्यवाही को अंजाम दिया जिसके साथ विभाग को अंदाजन 89 लाख रुपए जुर्माना के रूप में प्राप्त होंगे। विभाग द्वारा नोटिस भिजवाए जाएंगे और कईयों खिलाफ थाने में एफ.आई.आर. भी दर्ज करवाई जाऐगी। वहीं लम्बे समय से बिजली बिल अदा करने वाले डिफाल्टर खपतकारों की भी शामत आई, इसी क्रम में विभाग ने 190 कनेक्शन काटे और ज्यादातर ने अपने बिल जमा करवा कर कनेक्शन चालू करवाए। इनमें 1-2 मामलों में बिना बिल लिए कनेक्शन जोड़ने पड़े क्योंकि उक्त परिवार वाले शहर से दूर गए हुए थे और घर में बुजुर्ग ही मौजूद थे जिसके चलते उनकी सुविधा को मद्देनजर रखते हुए कनेक्शन जोड़ दिए गए, यह मामला कपूरथला सर्कल के साथ सम्बन्धित है।

पंजाब में बिजली किल्लत चल रही है जिसके चलते हैड आफिस द्वारा बचत पर जोर देने के निर्देश जारी किए गए। नॉर्थ जोन के इंफोर्समैंट डिस्ट्रीब्यूशन विंग द्वारा इन हिदायतों की पालना करते हुए अलग-अलग टीमें बनाकर रविवार सुबह चैकिंग की मुहिम चलाई गई। कपूरथला, जालंधर, होशियारपुर, शहीद भगत सिंह नगर (नवांशहर) सर्कल के अधीन बिजली चोरी पर हुई कार्यवाही में चोरी के 121 केस पकड़े गए। टीमों के अनुसार इनमें से 100 से अधिक खपतकारों ने सीधी कुंडी लगाई हुई थी। अधिकारियों ने कहा कि दोपहर के समय उक्त लोग कुंडी को हटा देते थे जिसके चलते सुबह कार्यवाही को अंजाम दिया गया और बिजली चोरी करने के इतने अधिक केस पकड़ने में सफलता मिल सकी।

अधिकारियें ने बताया कि ए.सी. का इस्तेमाल बेहद अधिक उठाया है। बड़ी संख्या में ऐसे खपतकार हैं जोकि बिजली के उपभोग को बचाने के लिए चोरी करते हैं। कईयों ने अपने मीटरों के साथ छेड़छाड़ की हुई है जबकि जिन लोगों के घरों के पास से तार गुजरती है वह कुंडी लगा कर विभाग को चूना लगा रहे हैं। आज पकड़े गए 121 मामलों में 89 लाख के करीब जुर्माना बनता है। दफ्तर बंद होने के कारण जुर्माना नोटिस जारी नहीं हो सका जोकि विभाग सोमवार को जारी करेगा। इसमें राशि बढ़ने की संभावना है। आधिकारियों द्वारा चोरी के मामले में बिजली एक्ट 2003 की धारा 135 के अंतर्गत बनती कार्यवाही की जाएगी। 
इन्फोर्समेंट डिस्ट्रीब्यूशन द्वारा बिजली चोरों पर की जा रही कार्यवाही के दौरान लोगों के घरों का भार भी चैक किया गया, हालांकि विभाग का मुख्य लक्ष्य बिजली चोरी थी परन्तु सामने आ रहे मामलों को छोड़ा नहीं गया। इस क्रम में 85 के करीब खपतकारों में सेशन से अधिक भार इस्तेमाल होते हुए पाया गया। इनको भार के मुताबिक जुर्माना किया जाएगा। आधिकारियों ने बताया कि उक्त 85 मामलों में से 80 घरों में ए.सी. चलते हुए पाया गया। इनमें कई कनेक्शन ऐसे थे जिनका भार एक किलोवाट से कम था और घर के अंदर 2-2 ए.सी. चलते मिले।

वहीं डिस्ट्रीब्यूशन की टीमों द्वारा लंबे समय से बिजली बिल जमा न करवाने वाले 190 के लगभग खपतकारों के कनेक्शन काटे गए। उक्त 190 खपतकार जालंधर, कपूरथला और होशियारपुर से सम्बन्धित हैं जबकि नवांशहर सर्कल द्वारा की गई कार्यवाही की विस्तृत रिपोर्ट बनानी है। आधिकारियों ने कहा कि इन खपतकारों की राशि 37.89 लाख के करीब बनती रही जो कि जमा करवा दी गई है।

फील्ड स्टाफ ने खपतकारों के पास से एप के जरिए ऑनलाइन जमा करवाई राशि
बिजली का बिल भरने के कई बदल हैं। खपतकार गुग्गल पे, पेटीऐम सहित कई तरह के एप्लीकेशनों के जरिए अपने बिलों का भुगतान कर सकता है। गर्मी का जोर है और ऊपर से विभाग द्वारा कनेक्शन काट दिए गए। इसके चलते लोग दफ्तर खुलने पर बिल जमा करवाने की बात कहने लगे और कनेक्शन जोड़ने के लिए जोर डालनेने लगे। इस पर फील्ड स्टाफ ने कई खपतकारों को ऑनलाइन पेमेंट जमा करवाने का बदल बताया और मौके पर ऑनलाइन के जरिए पेमेंट जमा करवाई। वहीं जिन खपतकारों ने मौके पर बिल जमा नहीं करवाए, वह बाद में ऑनलाइन बिल जमा करवा कर आए। दफ्तर बंद होने के कारण कैश में बिल जमा नहीं हो सकता था जिसके चलते ऑनलाइन माध्यम ही बचा था। विभाग को बड़े स्तर पर राशि की कलेक्शन हुई है। 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Urmila

Related News

Recommended News