Punjab Wrap Up: सिद्धू पर पहली बार कैप्टन ने खोला मुंह वहीं  जारी हुई विशेष गाइडलाइंस,पढ़ें दिनभर की बड़ी खबरे

punjabkesari.in Tuesday, Apr 27, 2021 - 06:29 PM (IST)

जालंधर: बेअदबी गोलीकांड मामले पर नवजोत सिद्धू द्वारा लगातार किए जा रहे हमलों के बाद मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने चुप्पी तोड़ते हुए सिद्धू को अब तक का सबसे तीखा जवाब दिया है। पंजाब सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए 27 अप्रैल से कोविड की नई पाबंदियां लागू करने का फैसला किया है। कैप्टन सरकार की तरफ से पंजाब में निजी संस्थानों में वर्क फ्रॉम होम के निर्देश जारी कर दिए गए है। पंजाब में वायरस का प्रकोप बढ़ रहा है और यह थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसी बीच अगर पंजाब के हालतों की बात करें तो बीते दिन भी 6020 तक संक्रमित मामले सामने आए है। ऐसी ही दिनभर की खास खबरें हम आपके लिए लाए हैं जो आप अपने व्यस्त शेड्यूल के चलते मिस कर जाते हैं। इस न्यूज बुलेटिन में हम आपको पंजाब से जुड़ी बड़ी खबरें बताने जा रहे हैं।
PunjabKesari

सिद्धू पर पहली बार कैप्टन ने खोला मुंह, बोले-'हाल तेरा भी जे.जे. सिंह जैसा होगा'
बेअदबी गोलीकांड मामले पर नवजोत सिद्धू द्वारा लगातार किए जा रहे हमलों के बाद मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने चुप्पी तोड़ते हुए सिद्धू को अब तक का सबसे तीखा जवाब दिया है। कैप्टन अमरेंद्र सिंह ने नवजोत सिद्धू को पटियाला से चुनाव लड़ने की चुनौती देते कहा कि अगर वह उनके खिलाफ चुनाव लड़नी चाहता है तो शौंक से लड़े परन्तु पिछले चुनावों में जो हाल जे. जे. सिंह का हुआ था वैसे ही उसके साथ होगा। उन्होंने कहा कि सिद्धू पटियाला से चुनाव लड़ कर देख ले जे.जे. सिंह की तरह उसकी भी जमानत ज़ब्त हो जाएगी।

पंजाब में आज कितने बजे से क्या बंद होगा?.. पढ़ें पूरी खबर
पंजाब सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए 27 अप्रैल से कोविड की नई पाबंदियां लागू करने का फैसला किया है। यह पाबंदियां, गाइडलाइंस या निर्देश अगले आदेशों तक जारी रहेंगे। इसी के साथ अगर कोई भी इस फैसले की उल्लंघना करता नजर आया तो उनके खिलाफ महामारी अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया जाएगा।
now these instructions were issued for government offices as well

पंजाब में निजी कार्यालयों के बाद अब सरकारी दफ्तरों के लिए भी जारी हुए ये निर्देश
पंजाब में कोरोना के बढ़ते केसों को देखते हुए राज्य सरकार की तरफ से लगातार सख्ती बढ़ाई जा रही है। इसी क्रम में राज्य सरकार ने आज कुछ विशेष गाइडलाइंस जारी की है जिसके तहत दुकानों से लेकर निजी कार्यालय तक के लिए विशेष आदेश जारी किए गए है। अब कैप्टन सरकार की तरफ से निजी दफ्तरों के बाद सरकारी कार्यालयों में भी 50 फीसदी स्टाफ को बुलाने के निर्देश जारी किए है। यह आदेश चंडीगढ़ स्थित मुख्य कार्यालयों के लिए ही फिलहाल जारी किए गए है।  

Night Curfew, वीकेंड लॉकडाउन के बावजूद नहीं टल रहा कोरोना, 6 की मौत इतने नए केस
जिला जालंधर में कोरोना रोगियों की संख्या दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। मंगलवार को जिले में कोरोना से 6 की मौत जबकि 600 से अधिक रोगियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। बतां दें कि सोमवार को जिले में कोरोना से 6 की मौत जबकि 658 केस आए थे। 

work from home will be held in private offices in punjab

पंजाब में निजी दफ्तरों में होगा वर्क फ्रॉम होम, सरकार के आदेश जारी
पंजाब में कोरोना के बढ़ते केसों को देखते हुए राज्य सरकार की तरफ से लगातार सख्ती बढ़ाई जा रही है। इसी क्रम में राज्य सरकार ने आज कुछ विशेष गाइडलाइंस जारी की है जिसके तहत दुकानों से लेकर निजी कार्यालय तक के लिए विशेष आदेश जारी किए गए है। इसी के तहत पंजाब में निजी संस्थानों में वर्क फ्रॉम होम के निर्देश जारी कर दिए गए है। इसके लिए सरकार ने कहा है कि निजी कार्यालयों में वर्क फ्रॉम होम के तहत ही काम होगा। इसमें सर्विस इंडस्ट्री को भी शामिल किया गया है। 

no need to go to hospital for corona test report

कोरोना टैस्ट की रिपोर्ट के लिए अस्पताल जाने की जरूरत नहीं, ऐसे कर सकेंगे Download
शहर में जो भी अब जी.एम.सी.एच.-32 और उसकी मौबाइल टैस्टिंग यूनिट में कोविड के लिए आर.टी.-पी.सी.आर. टैस्ट करवाता है तो उसे अपनी रिपोर्ट लेने के लिए अस्पताल आने की जरूरत नहीं है। जी.एम.सी.एच.-32 ने अपनी वैबसाइट पर कोविड टैस्ट की रिपोर्ट डाऊनलोड करने की सुविधा दी है। लोगों को www.gmch.gov.in वैबसाइट पर जाना होगा और लैब रिपोर्ट पर क्लिक करना होगा।

बड़ी खबर: पंजाब के BJP और RSS नेताओं को खतरा ! केंद्र ने जारी किए निर्देश
पंजाब के कई सीनियर भाजपा और आर.एस.एस. नेताओं की सुरक्षा को खतरा बताते हुए केंद्र की तरफ से राज्य को इन नेताओं की सुरक्षा संबंधित निर्देश जारी किए गए हैं। दरअसल केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मुख्य सचिव पंजाब को एक गुप्त पत्र भेजा है। इस मामले को केंद्रीय सुरक्षा एजेंसी के साथ विचार विमर्श करने के बाद इन्हें उचित सुरक्षा देने के बारे फ़ैसला किया गया है।

patients from other states are also admitted in hospitals in punjab

बढ़ सकता है खतरा! दूसरे राज्यों के मरीज भी पंजाब के अस्पतालों में हो रहे भर्ती
पिछले कुछ दिनों से दिल्ली व अन्य राज्यों की भयानक तस्वीरें सामने आ रही हैं। कहीं ऑक्सीजन न मिलने से लोग तड़प रहे हैं तो कहीं लोगों की मौत हो रही है। कहीं शमशानघाट भरे हुए हैं तो कहीं पार्किंग में रख कर शवों का अंतिम दाह संस्कार किया जा रहा है। इस मामले में पंजाब के हालात अभी कुछ हद तक ठीक हैं लेकिन यह कब तक ठीक रहेंगे, इसकी कोई गारंटी नहीं है। पंजाब में वायरस का प्रकोप बढ़ रहा है और यह थमने का नाम नहीं ले रहा है। इसी बीच अगर पंजाब के हालतों की बात करें तो बीते दिन भी 6020 तक संक्रमित मामले सामने आए है। वहीं 100 लोगों की मौत होने की पुष्टि हो हुई है।स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी इन आंकड़ों को अगर प्रशासन और लोगों की लापवाही का नतीजा कहा जाए तो कुछ गलत नहीं होगा। 
 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Tania pathak

Related News

Recommended News