अमृतसर पहुंचे राकेश टिकैत, MSP को लेकर कही यह बात

punjabkesari.in Saturday, Nov 27, 2021 - 08:08 PM (IST)

अमृतसर (सुमित खन्ना): संयुक्त किसान मोर्चा के किसान नेता राकेश टिकैत आज अमृतसर पहुंचे। इस दौरान एक पत्रकार सम्मेलन में उन्होंने कहा कि एम.एस.पी. पर केंद्र सरकार को कानूनी गारंटी देनी चाहिए और जल्द ही कानून बनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि सरकार ने तीन कृषि कानूनों के साथ एम.एस.पी. को लेकर बात करती थी। एम.एस.पी. में ही किसान को सबसे ज्यादा लूटा गया है अब सारे देश की नजरे इस पर है। एस.एस.पी. ही हमारा मुख्य मुद्दा है। इस पर एक कमेटी बनेगी जो कीटनाशकों, डेयरी समेत अन्य मुद्दों पर गौर करेगी। भारत सरकार जितनी जल्दी फैसला ले, उतना अच्छा नहीं तो हमारा बाकी कार्यक्रम पहले की तरह चलता रहेगा। 

यह भी पढ़ेंः मोहाली पहुंचे केजरीवाल, इन मंत्रियों समेत अध्यापकों के धरने में हुए शामिल

सरकार ने तीन कृषि कानूनों को वापस ले लिया है, जिन पर संयुक्त किसान मोर्चा ने भी विचार किया था  कि भारत सरकार अब बातचीत की लाइन पर आ गई है। उन्होंने कहा कि 29  तारीक की संसद मार्च भी वापस ले लिया गया है। उन्होंने कहा था कि जब तक कानूनों को निरस्त नहीं किया जाता, तब तक वे पंजाब की धरती पर नहीं जाएंगे, अब वे जीत गए हैं और इसलिए यहां आए हैं।

यह भी पढ़ेंः CM चन्नी के दौरे से पहले कर्मचारियों का जोरदार प्रदर्शन, पुलिस के साथ हुई हाथापाई

अब 4 दिसम्बर को संयुक्त किसान मोर्चे की वापस मीटिंग होगी जिस में अगले कार्यक्रम के बारे विचार विमर्श किया जाएगा। टिकैत ने कहा कि 4 दिसम्बर को तीन कृषि कानून संसद में आ जाएंगे, उम्मीद है िक सब कुछ साफ हो जाएगा। टिकैत ने कहा कि करोना व काले कानून एक बीमारी थे। यह बीमारी भी करोनो के साथ ही आई। कोरोना के खिलाफ जंग लड़ी गई थी। हमने एक पत्र लिखा है लेकिन वे बात नहीं करना चाहते। हमने समय सीमा देना बंद कर दिया है। कानून खत्म होने के बाद किसान वापस जाएगा या नहीं, सरकार की बाकी मांगों को पूरा नहीं करने पर किसान मौन अनशन करेंगे। उन्होंने कहा कि किसानों के मुद्दे पर धरना जारी है। इस दौरान उन्होंने कहा कि हमारे किसान का टमाटर पाकिस्तान नहीं जा रहे हैं जबकि पाकिस्तान से सामान आ रहा है। सरकार पाकिस्तान से काला नमक आयात कर रही है,  वह बंद क्यों नहीं करती। 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kamini

Related News

Recommended News