पंजाब भाजपा का पुनर्गठन तय, घोषणा जल्द

punjabkesari.in Thursday, Dec 01, 2022 - 09:07 AM (IST)

चंडीगढ़(हरिश्चंद्र): भारतीय जनता पार्टी का केंद्रीय नेतृत्व गुजरात चुनाव से निपटते ही पंजाब भाजपा का पुनर्गठन करने जा रहा है। प्रदेश प्रधान अश्वनी शर्मा का पद बरकरार रहेगा, अलबत्ता उनकी आधी से अधिक टीम की छंटनी तय मानी जा रही है। सूत्रों के अनुसार प्रदेश पदाधिकारियों में 50 फीसदी चेहरे नए होंगे। 

भगवा पार्टी पहली बार पंजाब में बड़े स्तर पर सिख नेताओं को प्रदेश टीम में जगह देगी। पंजाब के एक वरिष्ठ भाजपा पदाधिकारी ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि उन्हें करीब 15 दिन पहले ही इसकी जानकारी मिल चुकी है कि पार्टी नए चेहरों को मौका देने के लिए उनकी जगह नए पदाधिकारी नियुक्त करने जा रही है।  सूत्रों की मानें तो चारों प्रदेश महामंत्री हटाए जा रहे हैं और इनकी जगह पार्टी में शामिल हुए कुछ कांग्रेसी नेताओं को स्थान दिया जाएगा। इसी तर्ज पर उपाध्यक्षों और सचिवों में से भी आधों की छंटनी होगी। कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए फतेह जंग बाजवा, अरविंद खन्ना, डा. राज कुमार वेरका, गुरप्रीत कांगड़, बलबीर सिद्धू, केवल ढिल्लों, निमिषा मेहता व दमन बाजवा और अकाली दल से आए परमिंद्र बराड़ में से अधिकांश को प्रदेश पदाधिकारी बनाया जा रहा है। 

प्रदेश कोर ग्रुप में लिए जा सकते हैं सुनील जाखड़
पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ को प्रदेश कोर ग्रुप में लिया जा सकता है। पार्टी कम से कम 4 नेताओं को कोर ग्रुप से बाहर करने जा रही है। इनमें 2 पूर्व प्रधान और 2 पूर्व मंत्री शामिल हैं। राणा गुरमीत सोढी को लेकर अभी संशय है कि उन्हें प्रदेश पदाधिकारी बनाया जाएगा या कोर ग्रुप में जगह दी जाएगी। फतेह जंग बाजवा को भी कोर ग्रुप का सदस्य बनाया जा सकता है। प्रदेश टीम में प्रधान के साथ संगठन महामंत्री, 4 महामंत्री, 8 उपाध्यक्ष, 8 सचिव,कोषाध्यक्ष, कार्यालय सचिव, प्रदेश प्रैस सचिव, आई.टी. सैल का प्रमुख और सोशल मीडिया प्रमुख को रखा जाता है। एक भाजपा नेता ने बताया कि अन्य दलों से आए नेताओं को जिम्मेदारी मिलने से अन्य विरोधी दलों के नेता भी बड़े पैमाने पर भाजपा का रुख कर सकते हैं। भाजपा में शामिल हुए कई कांग्रेस नेताओं को केंद्र ने सिक्योरिटी भी मुहैया करवाई है। अब यदि पार्टी में अहम पद और सिक्योरिटी आदि दी जाती है तो जाहिर तौर पर इससे अन्य दलों के सीनियर नेता भी भाजपा में शामिल होंगे।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vatika

Related News

Recommended News