SSP ने पेश की अनोखी मिसाल, आप भी करेंगे इस बड़े दिलवाले को सलाम

punjabkesari.in Tuesday, Apr 19, 2022 - 12:08 PM (IST)

संगरूरः भले ही लोग दुनिया में बढ़ते अपराध और मुश्किलों की कितनी ही बातें करें, लेकिन हकीकत तो यह है कि आज भी अच्छाई के किस्से और अच्छे लोग रहने की जगह बनाए हुए हैं। कई बार इनमें ऐसे लोगों के नाम सामने आते हैं जिससे पता चलता है कि दुनिया में अभी भी इंसानियत जिंदा है और लोग दूसरों के लिए भी जितना बन पड़े उतना करते हैं। इंसानियत और दूसरों के दर्द दूर करने का एक नया किस्सा सामने आया है पंजाब के संगरूर से जहां पर एक बड़े दिलवाला पुलिसवाला सभी को बड़ा सबक दे रहा है। 

संगरूर के एसएसपी मनदीप सिंह सिद्धू ने अपने वेतन का एक हिस्सा पंजाब में वंचित कृषि पृष्ठभूमि की लड़कियों की शिक्षा के लिए योगदान करने का फैसला किया है। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म कू ऐप पर इस संबंध में जानकारी देते हुए सिद्धू ने लिखा, “मैं संगरूर के एसएसपी के रूप में अपने पहले वेतन से 51,000 रुपए दान करूंगा।”

एसएसपी सिद्धू ने माइक्रो-ब्लॉगिंग मंच कू ऐप पर साझा किए गए एक वीडियो में कहा, " इसके बाद हर महीने 21,000, जब तक मैं यहां हूं, उन लड़कियों की शिक्षा के लिए, जो वित्तीय तनाव के कारण अपनी पढ़ाई जारी रखने में असमर्थ हैं।"

'पढ़ता पंजाब' अभियान के तहत एसएसपी सिद्धू के प्रयास आर्थिक तंगी के कारण क्षेत्र में आत्महत्या करने वाले किसानों की बेटियों को शिक्षित करने में एक लंबा सफर तय करेंगे। यह पुलिस अधिकारी खुद एक किसान पृष्ठभूमि से ताल्लुक रखते हैं और अब तीसरी बार संगरूर में तैनात हैं। उनका मानना ​​है कि कोई भी बाधा जो शिक्षा तक पहुंच को रोकती है, विशेष रूप से लड़कियों के लिए, समाज द्वारा मिटा दी जानी चाहिए।

उन्होंने कहा कि एक हफ्ते में दो बड़े इंडस्ट्रियल हाउस उनके साथ आए हैं। उनमें से एक ने 21 लाख रुपए का योगदान देना चाहा। एक अन्य उद्योगपति ने धूरी के 13 सरकारी स्कूलों के 9 से 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए लगभग 26 लाख रुपए का चैक सौंपा। इन छात्रों को इस वर्ष कोई फीस नहीं देनी होगी। एसएसपी मनदीप सिंह सिद्धू ने बताया कि मैं तीसरी बार इस जिले में एसएसपी लगा हूं।

संघ शक्ति 181 के तहत पंजाब पुलिस समुदाय की महिलाओं को उनके अधिकारों के बारे में जागरूक करके और उन्हें शिक्षित करने के लिए राज्य भर में अलग-अलग कार्य कर रही है। पंजाब पुलिस ने सोशल मीडिया ऐप कू पर पोस्ट किया कि लुधियाना ग्रामीण पुलिस ने धूलकोट और हाथूर गांवों के सरकारी स्कूलों में जागरूकता सेमिनार आयोजित किए, जहां छात्रों को बच्चों और महिलाओं के खिलाफ अपराध के खिलाफ हेल्पलाइन 181 112 1091 के बारे में जागरूक किया गया।

पंजाब पुलिस की ओर से सोशल मीडिया ऐप कू पर एक पोस्ट में लिखा गया कि प्रिय महिलाओं, सांझशक्ति 181 एक 24X7 हेल्पलाइन है जो आपको छेड़खानी, घरेलू हिंसा और कई अन्य अपराधों जैसे अपराधों से बचाएगी। 

पंजाब पुलिस ने एक अन्य कू पोस्ट में लिखा कि अमृतसर कमिश्नरेट पुलिस ने सरकारी आईटीआई महिला बेरी गेट, अमृतसर में एक जागरूकता संगोष्ठी का आयोजन किया जहां छात्राओं को शक्ति ऐप, साइबर अपराध, महिला हेल्प डेस्क के कामकाज और  हेल्पलाइन 181 112 1091 के बारे में जागरूक किया गया।

लड़कियों और महिलाओं को सशक्त बनाने और सांझ शक्ति जैसे अभियानों के माध्यम से उनके अधिकारों के बारे में जागरूकता पैदा करने में पंजाब पुलिस सबसे आगे रही है।

वे सरकारी स्कूलों और ग्रामीण क्षेत्रों में जागरूकता सेमिनार आयोजित कर लोगों को महिलाओं और बच्चों के खिलाफ अपराधों के बारे में जागरूक करते रहे हैं।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Urmila

Related News

Recommended News