गुंडागर्दी का नाच: फतह गैंग ने अगवा नौजवान पर तेजधार हथियारों से किए वार, Video बना की वायरल

9/22/2020 12:47:59 PM

जालंधर: पुलिस की ढील कारण बदमाश फतह गैंग शहर में अपने पैर पसारने में लगा हुआ है। हैरानी की बात है कि फतह गैंग पर शहर के कई थानों में मारपीट और गुंडागर्दी के केस दर्ज हैं परन्तु किसी भी केस में उसकी गिरफ़्तारी नहीं हुई। फतह गैंग ने अब पुलिस को चुनौती देते एक नौजवान को अगवा करके बस्तियां इलाके में स्थित एक गोदाम में ले जाकर उसके साथ बुरी तरह मारपीट की और उसकी वीडियो बनाकर वायरल कर दी। इतना ही नहीं, मारपीट के बाद फतह गैंग के लोग जब वापस आए तो उन्हें वर्कशाप चौक में उक्त नौजवान का एक ओर साथी मिल गया, जिस पर उन्होंने तेजधार हथियारों के साथ हमला कर दिया और उसकी वीडियो बना कर वायरल कर दी।

PunjabKesari

सूत्रों की मानें तो यह दोनों वीडियो 2 दिन पुरानी बताईं जा रही हैं। पहले फतह गैंग ने बिल्लू नामक नौजवान को अगवा किया और बाद में उसे एक गोदाम में ले गए। वहां उक्त गैंग ने नौजवान के कपड़े फाड़ दिए और उसके साथ बुरी तरह मारपीट की। कुछ नौजवानों के हाथों में तेजधार हथियार भी थे। नौजवान को ज़बरदस्ती ज़मीन पर बिठाया गया और उसे बेरहमी से पीटकर उसकी वीडियो बनाकर वायरल कर दी। वापसी पर जब उक्त हमलावर वर्कशाप चौक नज़दीक पहुंचे तो बिल्लू का एक ओर साथी किशन उनको दिखाई दे गया, जिसको रोक कर हमलावरों ने तेजधार हथियारों के साथ बुरी तरह काट दिया। उनके ख़ून में लथपथ होने की उन्होंने वीडियो भी बनाई। हमलावरों से बच कर किशन ने जब भागने की कोशिश की तो उन्होंने उसका पीछा कर के दोबारा पकड़ लिया और उसकी टांगें पर तेजधार हथियार के साथ हमला कर दिया। किशन ने एक मोबाइल शॉप में छिप कर अपनी जान बचायी।

PunjabKesari

सूत्रों की मानें तो फतह गैंग की उन दोनों नौजवानों के साथ पुरानी रंजिश थी। दूसरी तरफ़ थाना नंबर 2 के इंचार्ज सुखदेव सिंह का कहना है कि रविवार को वर्कशाप चौक में एक झगड़ा होने की सूचना मिली थी। पुलिस जब वहां पहुंची तो वहां कोई नहीं मिला। उल्लेखनीय है कि फतह गैंग कालेज की प्रधानगी के लिए मकसूदां मंडी के बाहर भी विवाद कर चुका है। थाना नंबर 1में उसके ख़िलाफ़ केस दर्ज हुआ था। उस समय गोलियां चलने की भी चर्चा हुई थी परन्तु पुलिस ने इसकी पुष्टि नहीं की। उस समय भी पुलिस ने दूसरे पक्ष के एक नौजवान को गिरफ़्तार किया था परन्तु फतह काबू नहीं आया था। इससे कुछ समय बाद ही फतह गैंग ने शिव सेना की महिला नेता के बेटो के घर में दाख़िल होकर तोड़ -फोड़ की थी, तब भी फतह पर केस दर्ज हुआ था परन्तु उसकी गिरफ़्तारी नहीं हुई। फतह के पास नाजायज हथियार होने की भी चर्चा है परन्तु पुलिस की तरफ से फतह के मामले में इतनी ढील बरतना शहर में गैंगवार को न्योता देने के बराबर है।


Vatika

Related News