लुधियाना कार्पोरेशन चुनाव में कुछ और देरी संभव

Sunday, January 14, 2018 10:12 AM
लुधियाना कार्पोरेशन चुनाव में कुछ और देरी संभव

जालंधर(धवन): लुधियाना में कार्पोरेशन चुनाव में कुछ और देरी संभव है। अब सरकारी हलकों में यह चर्चा चल रही है कि लुधियाना में कार्पोरेशन चुनाव 20 फरवरी के आसपास ही संभव हो सकेंगे। सरकार राज्य में जालंधर, अमृतसर व पटियाला कार्पोरेशन के चुनाव सम्पन्न करवा चुकी है। इसमें कांग्रेस को भारी बहुमत हासिल हुआ था।

यद्यपि पंजाब के मुख्यमंत्री कै. अमरेन्द्र सिंह ने लुधियाना कार्पोरेशन चुनाव करवाने के लिए अपनी तरफ से हरी झंडी दे दी है, परन्तु यह कहा जा रहा है कि शिवरात्रि का त्यौहार निकलने के बाद ही चुनाव सम्पन्न होंगे। कार्पोरेशन चुनाव की पूरी प्रक्रिया लगभग 15 दिनों की होती है। चुनाव सम्पन्न होते ही चुनाव परिणामों का भी ऐलान कर दिया जाता है।

सरकारी हलकों ने बताया कि एक तो अभी फिलहाल मौसम भी काफी विपरीत चल रहा है।  दूसरा लुधियाना में वार्डबंदी का कार्य भी पिछले दिनों ही सम्पन्न हुआ है। अब गेंद पंजाब राज्य चुनाव आयोग के पाले में आ चुकी है परन्तु चुनाव आयोग ने भी अभी तक चुनावी तारीखों का ऐलान नहीं किया है। 

संभवत: इसमें अभी एक सप्ताह से 10 दिनों का समय और लग सकता है। अगर 20 फरवरी के निकट चुनाव होते हैं तो उस स्थिति में चुनावी तारीखों का ऐलान राज्य चुनाव आयोग द्वारा फरवरी महीने के पहले सप्ताह में ही किया जाएगा। पंजाब कांग्रेस पहले ही अपनी तैयारियां कार्पोरेशन चुनाव को लेकर शुरू कर चुकी है तथा मुख्यमंत्री कै. अमरेन्द्र सिंह की सहमति से कैबिनेट मंत्री तृप्त रजिन्द्र सिंह बाजवा को लुधियाना कार्पोरेशन चुनाव के लिए पार्टी का प्रभारी नियुक्त किया गया है। 

कांग्रेस ने राज्य स्तर पर लुधियाना कार्पोरेशन चुनाव को लेकर एक बैठक कर ली है परन्तु चुनावी तारीख का ऐलान न होने के कारण फिलहाल काम तेजी से आगे नहीं बढ़ सका । लुधियाना में भी कांग्रेस की टिकट लेने के दावेदारों की गिनती काफी अधिक है। प्रत्येक वार्ड में आधा-आधा दर्जन से ज्यादा उम्मीदवार टिकट के दावेदार बने हुए हैं। कांग्रेस लुधियाना चुनाव में भी डिवैल्पमैंट के एजैंडे को आगे लेकर चलेगी। 



अपना सही जीवनसंगी चुनिए | केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन