कोई नया टैक्स नहीं, 1 जुलाई से बिजली फ्री पंजाब बजट 2022-23 मान सरकार का पहला पेपरलैस बजट

punjabkesari.in Wednesday, Jun 29, 2022 - 03:49 PM (IST)

चंडीगढ़ (अश्वनी कुमार): आम आदमी पार्टी की सरकार ने सोमवार को विधानसभा में पहला बजट पेश किया। वित्त मंत्री हरपाल सिंह चीमा ने 1,55,859.78 करोड़ रुपए वाले कुल आकार के बजट को पेश करते कहा कि पंजाब की जनता पर कोई नया टैक्स नहीं लगाया जाएगा। साथ ही 2022-23 में सरकार की राजस्व प्राप्तियां 2021-22 के संशोधित अनुमान बजट की तुलना में 17.08 फीसदी अधिक होंगी। इससे पंजाब के खजाने में 95,378 करोड़ रुपए का योगदान पड़ेगा। इसी कड़ी में आबकारी राजस्व को 9,648 करोड़ रुपए तक बढ़ाने की उम्मीद कर रहे हैं। जी.एस.टी. की वसूली में 27 फीसदी उछाल की उम्मीद है, जो राज्य के हिस्से में करीब 4,350 करोड़ रुपए जोड़ेगी।

वित्त मंत्री ने यह भी कहा कि नई नीतियों की बदौलत माइनिंग समेत विभिन्न क्षेत्रों में राज्य के गैर-टैक्स राजस्व के रूप में पिछले वित्तीय वर्ष के मुकाबले 636 करोड़ रुपए प्राप्त होने की उम्मीद है। इसके अलावा केंद्रीय टैक्स और केंद्र से ग्रांट-इन-एड्स का हिस्सा क्रमवार 14,757 करोड़ रुपए और 28,731 करोड़ रुपए का अनुमान है। इस दौरान दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया व राज्यसभा सांसद विक्रमजीत सिंह साहनी राज्यपाल गैलरी में मौजूद रहे।

महिलाओं को प्रतिमाह एक हजार देने में कुछ समय लगेगा: हरपाल चीमा
वित्त मंत्री हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि आम आदमी पार्टी द्वारा चुनावों के दौरान की गई घोषणा के मुताबिक पंजाब की महिलाओं को प्रतिमाह एक हजार रुपए देने की स्कीम का अभी और इंतजार करना होगा। उन्होंने कहा कि आर्थिक हालात में सुधार होते ही महिलाओं को एक हजार रुपए प्रतिमाह की गारंटी को भी पूरा कर दिया जाएगा।
चीमा ने कहा कि जी.एस.टी. के मुआवजे के तौर पर मिलने वाली राशि के बंद होने का पता होने के बावजूद भी पिछली सरकार द्वारा राजस्व जुटाने का कोई ठोस प्रबंध नहीं किया गया है, उसके बावजूद उनकी सरकार ने बिना कोई नया टैक्स लगाए राजस्व बढ़ाने का लक्ष्य रखा है औरइसके लिए टैक्स चोरी को रोकना सबसे महत्वपूर्ण उपाय होगा।

पंजाबी यूनिवर्सिटी को200 करोड़ रुपए
बजट में पंजाबी यूनिवर्सिटी को वित्तीय संकट से निकालने के लिए 200 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।  इसी कड़ी में यूनिवर्सिटी फीस में रियायत देने के लिए सामान्य वर्ग के स्टूडैंट्स को मुख्यमंत्री वजीफा देने के लिए 30 करोड़ रुपए का बजट रखा गया है।

स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए4,731 करोड़ का बजट
वित्त मंत्री ने स्वास्थ्य क्षेत्र में सुधार लाने के लिए आज पेश किए गए बजट में 4,731 करोड़ रुपए रखें है।

इस साल के अंत तक 77 करोड़ से 117 मोहल्ला क्लीनिक बनेंगे।
दिल्ली की फरिश्ते स्कीम पंजाब में लागू होगी। जख्मी का अस्पताल में मुफ्त इलाज होगा।
अगले 2 साल में पटियाला और फरीदकोट में सरकारी सुपर स्पैशिलिटी अस्पताल बनाए जाएंगे।
मैडीकल शिक्षा व अनुसंधान के लिए अगले 5 साल में 16 मैडीकल कॉलेज खोले जाएंगे।

शिक्षा सुधार के लिए 3000 करोड़
समग्र शिक्षा अभियान के लिए करीब 1351 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।
स्कूल की बुनियादी व जरूरी मरम्मत जैसे कार्यों पर ध्यान देने के लिए एस्टेट मैनेजर तैनात करने का प्रावधान किया गया है, जिसके लिए 123 करोड़ रुपए आरक्षित किए गए हैं।
अध्यापकों, स्कूल प्रमुख, प्रबंधकों के स्किल अपग्रेशन प्रोग्राम को ध्यान में रखते हुए शार्ट टर्म व मिड टर्म सिखलाई देने के लिए 30 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।
200 करोड़ रुपए की लागत से करीब 100 स्कूलों को स्कूल ऑफ एमीनैंस के तौर पर अपग्रेड किया जाएगा।

नए पंजाब के लिए रूप-रेखा बनाने वाला बजट: भगवंत मान
मुख्यमंत्री भगवंत मान ने वित्त मंत्री हरपाल चीमा की तरफ से विधानसभा में पेश किए गए साल 2022-23 के राज्य सरकार के कर मुक्त बजट की सराहना की और इसको नए पंजाब के लिए रूप-रेखा बनाने वाला बताया। मुख्यमंत्री ने कहा कि शिक्षा, स्वास्थ्य, कृषि और वाणिज्य के क्षेत्र में क्रांति लाने के लिए जनता का बजट बनाया गया है। उन्होंने कहा कि सरकार लोगों के साथ की सभी गारंटियों को जल्द पूरा करेगी। वित्तीय क्षेत्र में जल्द ही क्रांतिकारी सुधार दिखाई देंगे।

‘आप’ का बजट लोगों से धोखा : राजा वडि़ंग
चंडीगढ़ पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष अमरिंदर सिंह राजा वडि़ंग ने पंजाब के बजट को कंटेंट और क्वालिटी दोनों की कमी के साथ झूठों से भरा बताते हुए सिरे से खारिज किया है, जो पंजाब के लोगों से एक धोखा है। उन्होंने कहा कि बजट मात्र एक वित्तीय जानकारी ही नहीं होता, बल्कि उसमें भविष्य की योजनाओं का जिक्र होता है और यह सरकार के लिए राज्य में बदलाव की उसकी सोच को दर्शाने का एक बेहतरीन अवसर था, जो उसमें पूरी तरह से फेल रही है।

बजट ने हर पंजाबी को निराश किया : अश्वनी शर्मा
भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने कहा कि आप सरकार का पहला बजट बहुत ही खेदजनक है और इसने हर पंजाबी को निराश कर दिया है, क्योंकि इसमें राज्य की बेहतरी के लिए कुछ भी ठोस प्रस्तावित नहीं किया गया है। शर्मा ने कहा कि आप सरकार द्वारा प्रस्तुत किया गया बजट केजरीवाल की दिल्ली टीम द्वारा तैयार किया गया है, क्योंकि इसमें दिल्ली पर शासन करने की शैली स्पष्ट नजर आ रही है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kalash

Related News

Recommended News