दुबई और मलेशिया में फंसे 300 भारतीय गुरु घरों में रहने को मजबूर

3/25/2020 11:19:35 AM

निहाल सिंह वाला/ बिलासपुर(बावा): मलेशिया के कुआलालंपुर और दुबई में तीन सौ के करीब भारतीय फंसे हुए हैं। जो प्राइवेट होटलों, गुरुद्वारों, एयरपोर्ट आदि स्थानों पर रहकर भारत आने का इंतजार कर रहे हैं। दुबई में फंसे 25 के करीब भारतियों में एक मोगा जिले के गांव हिम्मतपुरा थाना निहाल सिंह वाला का हरजिंदर सिंह है।

हरजिंदर सिंह के भाई सोनी और उसके पिता लाभ सिंह ने बताया कि हरजिंदर और 25 के करीब अन्य भारतीय 18 मार्च से स्पेन से चले थे, जिनकी स्टे दुबई में थी। परंतु भारत सरकार द्वारा जवाब मिलने पर दुबई से उनका जहाज नहीं उड़ा और वह तभी से यहां फंसे हुए हैं। उन्होंने भारत सरकार से मांग की है कि तुरंत उन्हें वापस लाने की कोशिश की जाए। मलेशिया में 17 मार्च से फंसे 300 के करीब पंजाबी यात्रियों अमरजीत सिंह लुधियाना, विशाल शर्मा, जसकरन गिल, सन्दीप कौर, जगदीप जगह आदि ने वीडियो भेज कर बताया कि भारत सरकार द्वारा उन्हें आगामी सूचित नहीं किया गया ना ही कोई फ्लाइट भेजी गई। जबकि अन्य देशों ने 23 मार्च तक वहां से अपने-अपने देशों के यात्रियों को विशेष जहाज भेज कर बुला लिया है। कुआलालंपुर में भारत सरकार के दूतावास भी बंद हैं।

ऑस्ट्रेलियन सिटीजन गुरप्रीत कौर और चेतन सिंह ने एयरपोर्ट पर फंसे यात्रियों को खाना खिलाया और जरूरतमंद भारतियों को मलेशिया करंसी भी दी। तीन चार दिन तक भारत सरकार के जहाज का इंतजार करने के बाद वह खालसा पंथ गुरुद्वारा, मंदिर और प्राइवेट होटलों में ठहर गए। इन लोगों ने भारत सरकार से मांग की कि हमें जल्द से जल्द वापस बुलाया जाए।


Edited By

Sunita sarangal

Related News