सुनहरे भविष्य की तलाश में दुबई गए युवक के साथ हुआ दर्दनाक हादसा

punjabkesari.in Thursday, Apr 21, 2022 - 07:27 PM (IST)

राजासांसी (राजविंदर, संधू):  बेहतर भविष्य के लिए दुबई काम करने गए युवक की हादसे दौरान मौत होने की सूचना मिली। मृतक की पहचान गुरप्रीत सिंह (22) निवासी गांव मूनक टांडा जिला होशियारपुर के रूप में हुई।  दुबई के एक प्रमुख व्यवसायी और सरबत दा भला ट्रस्ट चैरिटेबल ट्रस्ट के संरक्षक डॉ. एस.पी. सिंह ओबेरॉय के प्रयासों से आज गुरप्रीत सिंह का पार्थिव शरीर अमृतसर पहुंचा।

डॉ. एस.पी. सिंह ओबेरॉय ने जानकारी सांझा करते हुए कहा कि गुरप्रीत सिंह भी अन्य युवकों की तरह अपने परिवार की आर्थिक स्थिति सुधारने के लिए पहले यूक्रेन गया था। अपने दादा की तबीयत बिगड़ने के कारण वे यूक्रेन में युद्ध शुरू होने से ठीक 2 दिन पहले भारत आया था। कुछ समय घर पर रहने के बाद वह 16 मार्च को काम की तलाश में विजिटर वीजा लेकर दुबई पहुंचा, जहां वह काम की तलाश में था। 5 अप्रैल को एक इमारत की 14वीं मंजिल से गिरने उसकी मौत हो गई।

डॉ. ओबेरॉय ने बताया कि घटना के बाद मृतक के गांव के सामाजिक कार्यकर्ता जत्थेदार दविंदर सिंह ने उनसे संपर्क किया और कहा कि मृतक गुरप्रीत सिंह अपने बुजुर्ग दादा का एकलौता सहारा था। उसके पार्थिव शरीर को भारत भेजने में उसकी मदद करें। उन्होंने भारतीय दूतावास के पूर्ण सहयोग और अपने निजी सचिव बलदीप सिंह चहल की देखरेख में गुरप्रीत सिंह के पार्थिव शरीर को भारत भेजा। डॉ. ओबेरॉय के मुताबिक वह मृतक गुरप्रीत के बुजुर्ग दादा को 1500 रुपए मासिक पेंशन दी जाएगी। मृतक गुरप्रीत का पार्थिव शरीर लेने एयरपोर्ट पहुंचे दविंदर सिंह, हरप्रीत सिंह, मनोहर सिंह, जस्सी आदि समाज सेवा समिति के पदाधिकारी ग्राम मुनक कलां ने व्यवस्था के लिए डॉ. एस.पी. सिंह ओबेरॉय का आभार जताया और कहा कि उनकी बदौलत गुरप्रीत बुजुर्ग दादा और अन्य चचेरे भाई अंतिम दर्शन कर पाए हैं।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kamini

Related News

Recommended News