डीलरों ने खाद कंपनियों पर लगाए आरोप, मुख्य कृषि अफसर आगे लगाई गुहार

punjabkesari.in Saturday, Mar 05, 2022 - 10:20 AM (IST)

भोगपुर (राजेश सूरी): जालंधर उत्तरी इलाकों के साथ सम्बन्धित खाद और कीटनाशक डीलरों की तरफ से आज भोगपुर में एक प्रेस कान्फ्रेंस करके देश की एक प्रसिद्ध खाद कंपनी पर खाद के साथ जबरदस्ती न बिकने वाले लाखों रुपए के कीटनाशक दिए जाने के दोष लगाए हैं। इन डीलरों ने कहा कि वह जिला जालंधर के अलग-अलग इलाकों में खाद और कीटनाशक दवाएं बेचने का काम करते हैं और वह किसानों को डी.ए.पी. और यूरिया खाद की सप्लाई करते हैं। डी.ए.पी. और यूरिया खाद कंपनी प्रबंधक उनको खादों की सप्लाई इस शर्त पर कर रहे हैं कि खाद के एक ट्रक के साथ-साथ 20 पेटियां नैनो यूरिया दे रही हैं जिसकी कीमत एक लाख दस हजार रुपए के करीब है। 

यह भी पढ़ेंः यूक्रेन में फंसे छात्रों को लेकर मान ने PM मोदी से की ये अपील

कंपनी की तरफ से खाद के हर ट्रक के साथ दी जा रही नैनो यूरिया उनके गोदामों में जमा हो रही है जिसकी कीमत लाखों रुपए है। डीलरों ने बताया कि खाद निर्माता कंपनी डी.ए.पी. और यूरिया खाद के साथ नैनो यूरिया (पानी वाला घोल) के साथ दे रही हैं जिसको किसानों की तरफ से आधार से नकारा जा रहा है जिसके लिए नैनो यूरिया की बड़ी खेप उनके गोदामों में पड़ी हुई है और लाखों रुपए ब्लाक हो गए हैं। डीलरों ने अपना दुख बताते कहा कि यदि वह खाद के साथ मिलता फालतू दवा लेने से मना करते हैं तो कंपनी उनको खाद का कोटा जारी करने से मना कर देती है। 

यह भी पढ़ेंः राज्य सरकार का सराहनीय कदम, यूक्रेन से 225 विद्यार्थियों की हुई वतन वापसी

खाद डीलरों शर्मा खाद स्टोर भोगपुर, जी.एस. फर्टीलाइजर भोगपुर, समरा खाद स्टोर लाहदड़ा, अमीप ब्रदर्ज भोगपुर, एस.के ट्रेडिंग, शिव भोले किशनगढ़, काहलों खाद स्टोर, नवयुग खाद स्टोर और बंगा खाद स्टोर के मकान मालिकों ने कृषि दफ्तर जालंधर से मांग की कि उनके साथ खाद खरीदने के हो रहे धक्के को बंद किया जाए जिससे कंपनियों तरफ से किसानों और खाद विक्रेताओं का हो रहा शोषण बंद हो सके। इस मौके सुनील शर्मा, वरिन्दर सिंह, तरसेम सिंह, गुरमीत सिंह, वरिन्दर सिंह, जसकीरत सिंह आदि उपस्थित थे। 

यह भी पढ़ेंः पंजाब विधानसभा चुनाव : नतीजों को लेकर अनिश्चितता की स्थिति, आंकलन में जुटी कांग्रेस

क्या कहते हैं मुख्य कृषि अफसर जलंधर
इस सम्बन्धित मुख्य कृषि अफसर जालंधर सुरिन्दर सिंह ने बातचीत करते कहा कि अब तक उनके ध्यान में ऐसा मामला नहीं आया है परंतु यदि फिर भी कंपनी की तरफ से खाद के साथ जबरन कोई दवा दिए जाने की बात सामने आई तो उसके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Urmila

Related News

Recommended News