मामला तरनतारन में से मिले RDX का: मोबाइल जांच के बाद आज खुलेंगे अहम राज

punjabkesari.in Monday, May 09, 2022 - 10:00 AM (IST)

तरनतारन (रमन): जिले के अधीन आते कस्बा नौशहरा पन्नूआं से निकलते अमृतसर-बठिंडा नेशनल हाईवे-54 के नजदीक मौजूद पुरानी खंडहर पड़ी सरकारी रेस्ट हाऊस की इमारत में से बरामद की गई 2.5 किलो आई.ई.डी. (इसमें 1.5 किलो आर.डी.एक्स. मौजूद था), डेटोनेटर सेट, 1 मोटरसाइकिल, 2 मोबाइल व अन्य सामग्री को जिला तरनतारन की पुलिस ने अपनी जान पर खेल कर बरामद करने में बड़ी सफलता हासिल की है। पुलिस ने 2 आरोपियों को गिरफ्तार कर थाना सरहाली में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

गौरतलब है कि पुलिस द्वारा बरामद की गई सामग्री में चुंबकीय लोहे के गोले व कील भी बरामद किए गए हैं, जो किसी वाहन के नीचे आर.डी.एक्स. चिपकाने के लिए उपयोग किए जाते हैं। अनुमान लगाया जा रहा है कि इस विस्फोटक सामग्री को किसी खास शख्सियत या किसी राजनीतिक नेता को निशाना बनाने के लिए इसके वाहन के नीचे चिपकाने के लिए उपयोग किया जाना था। 

यह कार्रवाई जिले के सी.आई.ए. तरनतारन के इंस्पेक्टर प्रभजीत सिंह व थाना सरहाली की पुलिस को मिली गुप्त सूचना पर की गई है। सूचना में बताया गया था कि कुछ व्यक्ति विस्फोटक सामग्री व हथियार लेकर क्षेत्र में घूम रहे हैं। यह मामला जिले के एस.एस.पी. रणजीत सिंह ढिल्लों व एस.पी. इन्वैस्टिगेशन विशालजीत सिंह के ध्यान में लाया गया। इसके बाद एस.पी. (आई.) विशालजीत सिंह, सी.आई.ए. स्टाफ तरनतारन इंस्पेक्टर प्रभजीत सिंह व और थानों की पुलिस फोर्स मौके पर पहुंची जिसने रेस्ट हाऊस की इमारत को बिना बम निरोधक टीम के घेर लिया। पुलिस फोर्स ने बलजिंदर सिंह उर्फ बिंदु अमृतसर व जगतार सिंह उर्फ जग्गा अजनाला की गिरफ्तारी की।
 
दोनों आरोपियों के 1 और साथी जोबनजीत सिंह उर्फ जोबन निवासी अजनाला के खिलाफ पहले ही 4 एन.डी.पी.एस. एक्ट के केस दर्ज हैं। पुलिस द्वारा इसे भगौड़ा करार किया गया है जो विभिन्न अवैध हवाला चैनलों द्वारा गैंगस्टरों की मदद के लिए धार्मिक व सार्वजनिक स्थानों को निशाना बनाकर धमाका कर दहशत फैलाना चाहता है।

जिला पुलिस द्वारा दोनों आरोपियों से बरामद 2 मोबाइल फोनों की जांच लुधियाना में स्थित लेबोरेटरी से करवाने की कार्रवाई शुरू कर दी है। मोबाइलों की जांच के बाद सामने आ सकेगा कि उक्त आरोपियों के पंजाब या फिर पड़ोसी देश पाकिस्तान में कौन से तत्वों के साथ संपर्क हैं जो पंजाब का माहौल खराब करने के लिए योजना तैयार कर रहे हैं। विस्फोटक सामग्री को 1 बोरे में डाल कर रखा गया था। इसमें डेटोनेटर बैटरी सहित और तकनीकी यंत्र मौजूद थे। इसके साथ ही आर.डी.एक्स. को 3 अलग डिब्बों में बंद कर रखा गया था। पुलिस आरोपियों से बरामद बिना नंबर के मोटरसाइकिल की जांच भी करवा रही है। पुलिस यह भी जांच कर रही है कि गिरफ्तार आरोपियों के संपर्क देश-विदेश में बैठे आतंकवादी संगठनों के साथ तो नहीं हैं। पुलिस ने बम निरोधक टीम को मौके पर बुला कर विस्फोटक सामग्री को नष्ट करने की कार्रवाई की गई। 

एस.एस.पी. रणजीत सिंह ढिल्लों का कहना है कि आरोपियों से बरामद आई.ई.डी. जो विस्फोट के लिए तैयार थी। इसका समय सैट करने के बाद किसी सार्वजनिक स्थान के लिए उपयोग किए जाने की योजना थी। यह मामला पड़ोसी देश पाकिस्तान में बैठे आतंकवादी संगठनों के साथ जुड़े होने से इंकार नहीं किया जा सकता। 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

 

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kalash

Related News

Recommended News