पिता ने अपने ही इकलौते बेटे को उतारा मौत के घाट, मची चीख पुकार

punjabkesari.in Thursday, Jun 23, 2022 - 04:23 PM (IST)

मक्खू : यहां के गांव में आज एक घर का इकलौता चिराग घरेलू हिंसा की बलि चढ़ गया। जानकारी के अनुसार 70 वर्षीय केहर सिंह का अक पुत्र परमजीत सिंह (42) और 3 बेटियां थीं और सभी की शादी हो चुकी थी। कहा जाता है कि केहर सिंह के पास 3 एकड़ जमीन थी और परमजीत सिंह को डर था कि उसका पिता लड़कियों को जमीन दे देगा। इसी वजह से परमजीत सिंह डेढ़ एकड़ जमीन अपने नाम करना चाहता था।

इस संबंधित गत लंबे समय से परमजीत सिंह का अपने पिता केहर सिंह के साथ घरेलू कलेश चल रहा था। आज सुबह इस बात को लेकर परिवार वालों की आपस में लड़ाई होनी शुरू हो गई पर कुछ समय बाद इस लड़ाई ने भयानक रूप धारण कर लिया। इस घटना में घर के इकलौते बेटे को अपनी जान गंवानी पड़ी। जानकारी के अनुसार परमजीत सिंह गार्ड की नौकरी करता है। आपसी लड़ाई दौरान गुस्से में परमजीत सिंह जब अपनी लाइसैंसी 12 बोर बंदूक के साथ अपने पिता कहर सिंह को गोली मारने लगा तो परमजीत सिंह का अपना ही इकलौता बेटा 4 वर्षीय महकप्रीत सिंह अपने दादा के बचाव के लिए आगे आ गया और गोली सिधी उसकी छाती पर लगी, जिस कारण साथ उसकी मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस थाना मक्खू के प्रमुख जतिंदर सिंह और डी.एस.पी. जीरा ने मौके पर पहुंचकर आरोपी को काबू कर लिया है और हत्या की धाराओं के तहत केस दर्ज किया जा रहा है।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kalash

Related News

Recommended News