लुधियाना घंटाघर बम ब्लास्ट: आतंकी जगतार सिंह हवारा बरी

12/10/2019 8:12:55 AM

लुधियाना (मेहरा): लुधियाना के अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश अतुल कसाना की अदालत ने भूतपूर्व मुख्यमंत्री बेअंत सिंह की हत्या के आरोपी व अन्य मामलों में तिहाड़ जेल में बंद आतंकी जगतार सिंह हवारा को एक बड़ी राहत देते हुए लुधियाना के घंटाघर बम ब्लास्ट मामले में बरी कर दिया है। 

इस मामले में अभियोजन पक्ष आतंकी जगतार सिंह हवारा पर लगाए गए आरोपों को साबित करने में असफल रहा है। आतंकवाद के काले दौर के दौरान वर्ष 1995 में घंटाघर के पास हुए बम ब्लास्ट को लेकर आतंकी जगतार सिंह हवारा को नामजद किया था। 1995 में ही आर.डी.एक्स. बरामदगी मामले में भी हवारा को नामजद किया गया था, लेकिन इस मामले की सुनवाई अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश अरुण वीर विशिष्ट ने करते हुए गत माह ही आतंकी जगतार सिंह हवारा को बरी कर दिया था। 

1995 में हुए बम धमाके में घायल हुए थे 24 लोग 
उल्लेखनीय है कि 1995 में लुधियाना के घंटाघर चौक में हुए बम धमाके में 24 लोग घायल हुए थे व पुलिस ने विनोद कुमार की शिकायत पर मामला दर्ज कर 23 दिसम्बर 1995 को हवारा को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने जगतार सिंह हवारा के अलावा अन्य आरोपी बिक्रमजीत सिंह निवासी खुमानो, परमजीत सिंह भिओरा, बलविंदर सिंह निवासी रोपड़, प्रीतम सिंह आदि को भी इसमें नामजद किया था। तत्कालीन अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश सुनील कुमार की अदालत ने बिक्रमजीत सिंह को बरी कर दिया था, जबकि बलविंदर सिंह व प्रीतम सिंह को पहले ही भगौड़ा करार दिया जा चुका है। पुलिस ने जगतार सिंह हवारा से पूछताछ के दौरान कुन्दनपुरी क्षेत्र में बुड्ढे नाले के निकट हवारा से 5 किलो आर.डी.एक्स., एक ए.के.-56, 60 कारतूस, एक रिमोट कंट्रोल व एक वाकी टाकी वायरलैस सैट की बरामदगी होने का दावा किया था। 


swetha

Related News