ऑप्रेशन के दौरान महिला के पेट में तौलिया छोड़ने का मामला, SMO ने सिविल सर्जन को भेजी रिपोर्ट

12/24/2020 3:12:05 PM

लुधियाना (राज): सिविल अस्पताल के मदर एंड चाइल्ड सेंटर में सीजेरियन के दौरान महिला के पेट में तौलिया छोड़ने के केस में डॉक्टरों के बोर्ड ने जांच पूरी कर ली है। जांच में डॉक्टर महिला और उसकी टीम की लापरवाही सामने आई है, जिस संबंधी एस.एम.ओ. द्वारा रिपोर्ट कार्रवाई के लिए सी.एम.ओ. ऑफिस भेज दी गई है। दूसरी ओर पीड़ित परिवार का आरोप है कि केस वापिस लेने के लिए डॉक्टर महिला सिफारिशों से दबाव डालने की कोशिश कर रही है।

असल में 13 दिसंबर को केस की शिकायत चौंकी पुलिस और एस.एम.ओ. को दी गई थी। इस केस में एस.एम.ओ. डॉ. अमरजीत कौर ने जांच के लिए डॉ. मालविंदर कौर माला की अगुवाई में तीन डॉक्टरों के बनाए बोर्ड में डॉ. वरुण सग्गड़, डॉ. शीनू और डॉ. शीतल को जांच सौंपी थी। 12 दिनों में बोर्ड ने जांच पूरी की और मंगलवार को रिपोर्ट बनाकर एस.एम.ओ. को दी, जिनका कहना है कि जांच में सीजेरियन के दौरान लापरवाही सामने आई है। इसलिए अगली कार्रवाई के लिए उक्त रिपोर्ट सिविल सर्जन ऑफिस भेज दी गई है। 

यह केस था....
शिमलापुरी के अरविंदर सिंह की पत्नी आशा कौर का सिविल अस्पताल के मदर एंड चाइल्ड सेंटर में सीजेरियन से बेटा हुआ था। सीजेरियन के कुछ घंटे बाद ही आशा कौर के पेट में तेज दर्द होने लगी थी तो डॉक्टरों ने उसको पटियाला रैफर करना चाहा, लेकिन उसने प्राइवेट अस्पताल जाने के लिए कहा था। इसके बाद जब दो दिनों के पश्चात उसने सी.एम.सी. अस्पताल चैकअप करवाया तो खुलासा हुआ कि उसकी पत्नी के पेट में तौलिया था, जोकि सीजेरियन के दौरान डॉक्टर और स्टाफ की लापरवाही के कारण पेट में ही रह गया था। इसके बाद उन्होंने इस संबंधी शिकायत दी थी। 


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Mohit

Recommended News

static