सरदार भगत सिंह के भतीजे की अस्थियां की गई सतलुज में जल प्रवाह, कोरोना से हुई थी मौत

punjabkesari.in Thursday, May 27, 2021 - 05:52 PM (IST)

फिरोजपुर(कुमार): शहीदे आजम सरदार भगत सिंह के भतीजे स्वर्गीय सरदार अभय सिंह संधू की अस्थियां लेकर उनका परिवार हुसैनीवाला स्थित सरदार भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव, बीके दत्त और पंजाब माता के स्मारकों पर पहुंचा। शहीद भगत सिंह के स्मारक पर अस्थियों वाला कलश रखकर उन्हें प्रणाम किया गया और उसके बाद स्वर्गीय अभय सिंह संधू की धर्मपत्नी तेजिंदर कौर, उनकी बेटी व अन्य परिवारिक सदस्यों ने अस्थियां जल प्रवाह की। इस अवसर पर जिला फिरोजपुर प्रशासन की ओर से एस.डी.एम. अमित कुमार गुप्ता और नायब तहसीलदार मौजूद थे।

PunjabKesari

तेजिंदर कौर ने बताया कि स्वर्गीय अभय सिंह समाज सेवक थे और उन्होंने शहीदे आजम सरदार भगत सिंह की विचारधारा के साथ समुचे देश की युवा पीढ़ी को जोड़ा और उनकी हस्त लिखित देश के लोगों के समक्ष पेश की। स्वर्गीय अभय सिंह चाहते थे कि उनका देश शहीद-ए-आजम की विचारधारा के साथ जुड़े और शहीदों के सभी सपनों को पूरा करें। वह सारी जिंदगी सामाजिक हितों के लिए आवाज उठाते रहे और सरदार कुलबीर सिंह फाउंडेशन के माध्यम से उन्होंने देश की युवा पीढ़ी को देशभक्ति के रास्ते पर चलने की प्रेरणा दी।

श्रीमती तेजिंदर कौर संधू ने बताया कि सरदार भगत सिंह के परिवार की यह प्रथा है कि जब भी उनके परिवार का कोई सदस्य शरीर छोड़ता है तो उसकी अस्थियां सबसे पहले हुसैनीवाला स्थित शहीदे आजम सरदार भगत सिंह के स्मारक पर लाई जाती हैं और वहां पर प्रणाम और श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद अस्थियां हुसैनीवाला सतलुज दरिया में जल प्रवाह की जाती है। उन्होंने कहा कि स्वर्गीय अभय सिंह संधू द्वारा किसानी आंदोलन की भरपूर हिमायत की गई और वह किसानी आंदोलन का समर्थन करते किसानों के साथ जुड़े रहे। उन्होंने बताया कि अभय सिंह संधू ने 23 मार्च को किसानों के हित में अपनी कुर्बानी देने की पेशकश की थी, मगर किसानों ने उनका आभार प्रकट करते हुए कहा था कि किसानों के लिए उनका समर्थन ही बहुत बड़ी ताकत है।

उन्होंने बताया कि अभय कोरोना ग्रस्त थे और अस्पताल में भर्ती थे। वह तेजी से ठीक हो रहे थे, मगर एक दिन अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गई और उनका देहांत हो गया। तेजिंदर कौर और उनकी बेटी ने बताया कि उनके सपनों को साकार करने के लिए पूरा परिवार उनके द्वारा दिखलाए गए रास्ते पर चलता और सेवा करता रहेगा।

पंजाब और अपने शहर की अन्य खबरें पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Sunita sarangal

Related News

Recommended News