मामला भारत-पाक बार्डर पर बी.एस.एफ. और स्मगलरों के बीच हुई फायरिंग का

punjabkesari.in Monday, Jan 31, 2022 - 05:59 PM (IST)

गुरदासपुर (हेमंत): 28 जनवरी को भारत-पाक इंटरनेशनल बार्डर बी.एस.एफ. पोस्ट चन्दु वडाला पर बी.एस.एफ. जवानों और पाक स्मगलरों बीच हुई फायरिंग होने के बाद इस मामले की जांच करते हुए जिला पुलिस गुरदासपुर ने चार दोषियों को काबू करके उनसे एक कार, 2 लाख 50 हजार रुपए की नकदी और 6 मोबाइल फोन बरामद करने में सफलता प्राप्त की है। इस संबंधी आज पत्रकारों के साथ बातचीत करते एस.एस.पी. डॉ. नानक सिंह ने बताया कि 28 जनवरी को भारत-पाक बार्डर पर पाकिस्तान स्मगलरों से हेरोइन और असलों की खेप गुरदासपुर के कुछ स्मगलरों ने मंगवाई थी, जो पाकिस्तान स्मगलरों ने बार्डर क्रॉस करनी थी परन्तु उस रात बार्डर पर बी.एस.एफ. की मुस्तेदी कारण और फायरिंग होने के कारण उक्त दोषी उस खेप को वहीं छोड़ कर भाग गए थे। 

यह भी पढ़ेंः पंजाब विधान सभा 2022: नवजोत सिद्धू ने खोला दावों का नहीं गारंटियों का पिटारा

इस फायरिंग दौरान बी.एस.एफ. का एक कर्मचारी ज्ञान सिंह पुत्र कल्लु सिंह निवासी मन्नूपुर थाना खाखैरू जिला फतेहपुर यू.पी. जख्म हो गया, जिसको अमृतसर अस्पताल दाखिल करवाया गया। एस.एस.पी. डॉ. नानक सिंह ने बताया कि बी.एस.एफ.के कर्मचारी ज्ञान सिंह के बयानों पर थाना कलानौर में धारा 307, बी, 25-54-59 हथियार एक्ट के अंतर्गत मामला दर्ज करके इस मामले की जांच शुरू कर दी।

यह भी पढ़ेंः जालंधर : कोरोना से 3 मरीजों की हुई मौत, इतने नए केस आए सामने

सर्च दौरान बरामद हुआ था सामान
एस.एस.पी. ने बताया कि तब भारत-पाक बार्डर पर सर्च दौरान 53.830 किलो हेरोइन, 1.080 किलो अफीम, एक पिस्तौल चाइना 0.30 बोर समेत 2 मैगजीन और राउंड 44, एक पिस्तौल मार्का इटली समेत मैगजीन और 12 राउंड, 4 मैगजीन ए.के. 47 समेत राउंड, 1 मोबाइल फोन माडल सैमसंग एस.एम. और सिम कार्ड एयरटेल 1 बरामद हुआ था ।

यह भी पढ़ेंः नहीं थम रहा प्लास्टिक डोर का इस्तेमाल, चपेट में आया नौजवान

एस.एस.पी. ने बताया कि इस मामले की बारीकी के साथ जांच की गई तो इसमें हरनेक ईसा मसीह उर्फ नेकी पुत्र अनैत ईसा मसीह निवासी मोहल्ला नया कटरा कलानौर, लक्की तेजा पुत्र माना ईसा मसीह निवासी बाबा कार कालोनी कलानौर, हरदीप सिंह उर्फ दीपा पुत्र अजीत सिंह निवासी गोला ढोला हाल निवासी रछर-छत्र थाना डेरा बाबा नानक, रजवंत सिंह उर्फ बिल्ला पुत्र हरबंस सिंह निवासी भिंडीनैण थाना पिंडी सैंदा तहसील अजनाला जिला अमृतसर दोषी पाए गए, जिनको गिरफ्तार करके इनसे एक कार आई-10, 2 लाख 50 हजार रुपए ड्रग मनी, 6 मोबाइल फोन बरामद हुए हैं। 

यह भी पढ़ेंः वैक्सीन लगवा चुके स्टूडेंट्स के लिए शिक्षा विभाग ले सकता है यह फैसला

एस.एस.पी. डॉ. नानक सिंह ने बताया कि पूछताछ में दोषियों ने माना कि उनके सम्बन्ध पाकिस्तान के बदनाम हेरोइन स्मगलर के साथ थे और उसके द्वारा ही यह हेरोइन की खेपें मंगवाते थे और उनके कहने पर उसके साथियों को आगे सप्लाई करते थे। उन्होंने बताया कि इस गिरोह का एक ओर मैंबर पतरस ईसा मसीह पुत्र खजान ईसा मसीह निवासी बुचे नंगल थाना घुम्मण कलां की शमूलियत सामने आई है, जिसको गिरफ्तार करना अभी बाकी है। इस सम्बन्धित जांच दौरान गिरोह के अन्य सदस्यों की शिनाख्त कर उनको गिरफ्तार किया जाएगा। 

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Urmila

Related News

Recommended News