मुख्यमंत्री का गृह जिला बना जुर्म और अपराध की राजधानीः बीर दविंदर सिंह

punjabkesari.in Sunday, May 24, 2020 - 10:33 PM (IST)

पटियालाः यह बड़ी शर्म की बात है कि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरेन्द्र सिंह के गृह जिला पटियाला में आपराधिक गतिविधियों के एक दम बढ़ जाने से और कर्फ्यू/लॉकडाउन के दौरान हुए कत्लों की संख्या 9 हो जाने के कारण, पटियाला जिला बिहार के पटने जैसे जुर्मों की राजधानी के बदनाम इलाके के तौर पर जाना जाने लगा है। मुझे समझ नहीं आ रही कि पटियाला जिले में अमन-कानून के पूरे ढांचे को क्या हो गया है कि छोटे-मोटे अपराधों से शुरु होकर कत्लों तक के अपराधों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। 

इस जिले में खास तौर पर पटियाला शहर के लोगों को उम्मीद थी कि कैप्टन अमरेन्द्र सिंह के मुख्यमंत्री बन जाने से तो सारे पंजाब की अमन और कानून की स्थिति में काफी सुधान आएगा और आम लोग चैन से अपनी जिंदगी जी सकेंगे लेकिन इसके बिलकुल विपरीत बल्कि मुख्यमंत्री का अपना गृह जिला पटियाला ही जुर्म और अपराधों की राजधानी बन गया है। 

कैप्टन अमरेन्द्र सिंह को पटियाला के लोगों को जवाब देना बनता है कि हर तरह के अपराधों की गतिविधियां इस जिले में ही क्यों बढ़ रही हैं। नकली दूध और नकली दूध से तैयार किए जाने वाले पदार्थों का पंजाब का सबसे बड़ा कारोबार इश जिले के देवीगढ़ कस्बे में चल रहा थी। अब नकली शराब बनाने का एक बड़ा कारखाना राजपुरे के पास गांव से पकड़ा गया है, जहां नाजायज शाब का करोड़ों का कारोबार, जरनैली सड़कों के नजदीक एक बंद पड़े कोल्ड स्टोर में एक कांग्रेस पार्टी के लीडर द्वारा चलाया जा रहा थी। इसी तरह राजपुरे में ही हुक्का पार्टी के नाम पर सट्टा और जुए का एक बड़ा अड्डा कांग्रेस पार्टी के एक एम.एल.ए. के लड़के द्वारा कथित तौर पर चलाया जा रहा थी।

पता लगा है कि नकली दूध और नकली दूध से तैयार किए जाने वाले पदार्थों की फैक्ट्री अब फिर दोबारा इस जिले के देवीगढ़ कस्बे में चल रही हैं। पंजाब के सेहत विभाग ने कर्फ्यू के दौरान जिला पटियाला में कहीं भी छापामारी करके नकली दूध और इससे तैयार किए जाने वाले नकली पदार्थों के सैंपल नहीं भरे, बहाना सिर्फ यह था कि सारा विभाग कोविड-19 से जूझ रहा है। इन सभी अवैध कारोबारों में मोती बाग की काफी बदनामी हो रही है। आम लोगों का कहना है कि इन सभी अवैध धंधों में अपराधियों का संरक्षण कहीं ना कही मोती बाग के दलालों के जरिए ही हो रहा है, यही कारण है कि सभी बड़े अपराधिक कानून के शिकंजे से बच निकलते हैं। बावजूद इस आम प्रभाव के कि जिले के पुलिस प्रमुख मनदीप सिंह सिद्धू और पटियाला जोन के आई.जी. सरदार जतिंदर सिंह औलख बड़े इमानदार व्यक्ति हैं। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Mohit

Related News

Recommended News