PT टीचर ने छात्र को गालों पर डंडे मारकर पीटा,बोला-अभी और पीटूंगा

9/11/2019 11:14:25 AM

पठानकोट(मनिन्द्र): मामून कैंट में स्थित केन्द्रीय विद्यालय नं-4 के पी.टी.आई. अध्यापक की तरफ से अध्यापक दिवस वाले दिन छठी कक्षा के छात्र से  मारपीट कर घायल करने का मामला सामने आया है। पीड़ित छात्र के पिता परनिश कुमार शर्मा निवासी बुंगल ने बताया कि उनका बेटा शिवम शर्मा उक्त विद्यालय में छठी (ए) कक्षा में पढ़ता है। बेटे ने बताया कि 5 सितम्बर के दिन स्कूल में अध्यापक दिवस मनाया जा रहा था, जिसके अंतर्गत स्कूल के बड़ी कक्षा के विद्यार्थी उस दिन स्कूल अध्यापक बनकर स्कूली शिक्षकों का रोल अदा कर रहे थे।  उनकी कक्षा में आने वाले जो स्कूली बच्चे अध्यापक बनकर आए थे। वह उनके स्वागत के रूप में स्नो स्प्रे डाल रहे थे।  इस बात पर उनके अध्यापक पी.टी.आई. भूपिन्दर सिंह ने उसे पीटना शुरू कर दिया और उसकी गाल पर डंडे से मारना शुरू कर दिया, जिससे वह बुरी तरह से घायल हो गया। 

परनिश ने बताया कि दोपहर के समय जब उनका लड़का घर आया तो वह कमरे में जाकर बेसुद होकर सहम कर पड़ा हुआ था त। उसके बाद उसे बहुत तेज बुखार हो गया, जिसको उन्होंने तुरन्त इलाज हेतु सी.एच.सी. अस्पताल बधानी में लेकर गए, वहां पर जब वह थोड़ा होश में आया तो उसने उन्हें अध्यापक द्वारा मारने की बात सुनाई, जिसको लेकर वह स्कूल प्रिंसीपल के पास गए।  जब पी.टी.आई अध्यापक को बुलाकर उससे पूछना चाहा तो उसने रौब दिखाते  कहा कि अभी तो, ‘शिक्षक दिवस होने के कारण मैंने इसे कम मारा है जब यह कल स्कूल आएगा तो इसे और पीटूंगा।’ परनिश ने बताया कि उसके बाद उन्होंने सी.एच.सी. अस्पताल बधानी में ही बच्चे का मैडीकल करवाकर मामून पुलिस थाने में शिकायत दर्ज करवा दी है। इस संबंध में जब कथित आरोपी भूपिन्दर सिंह से जानना चाहा तो उन्होंने फोन पर कुछ भी जानकारी देने से इंकार कर दिया। 

मामले में की जाएगी बनती कार्रवाई : एस.आई. 
इस सम्बन्धी मामले की जांच कर रहे मामून थाना के एस.आई. सतबीर सिंह से बात की तो उन्होंने बताया कि उनके पास शिकायत आ चुकी है तथा वह मामले की जांच कर रहे हैं अगर नियमों अनुसार अध्यापक गलत पाया गया तो उस पर बनती कार्रवाई की जाएगी।

जल्द हो जाएगा फैसला : स्कूल प्रिंसीपल 
जब स्कूल प्रिंसीपल पी.एल. धीमान से बात की तो उन्होंने कहा कि इस सम्बन्धी अध्यापक को चेतावनी लैटर दे दिया गया है तथा बच्चे के अभिभावक से बात चल रही है, जल्द इस पर फैसला कर दिया जाएगा।

घटना के बाद बच्चे को नहीं भेजा स्कूल : मीनू 
शिवम की माता मीनू शर्मा ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि उस दिन से आज तक अपने बच्चे को स्कूल नहीं भेज रहे। इस बात को लेकर पी.टी.आई. अध्यापक पश्चाताप करने के बजाय उल्टा अन्य बच्चों के हाथ उन्हें मैसेज कर रहा है कि मेरा जो करना है कर लो शिवम जब भी आएगा तो उसे मैं देख लूंगा। शिवम के माता-पिता ने केन्द्रीय-विद्यालय संगठन व पुलिस प्रशासन से मांग की है कि ऐसे अध्यापक पर बनती कार्रवाई की जाए।


swetha