Indo Pak वॉर में शहीद सैनिक का भाई पहुंचा हाईकोर्ट, मांगी 50 लाख की ग्रांट’

1/14/2021 10:03:34 AM

चंडीगढ़ (हांडा): लुधियाना का सोहन सिंह 1971 की इंडो-पाक जंग में शहीद हो गया था। उनके माता-पिता ने सरकार से उन्हें 10 एकड़ जमीन दिए जाने की मांग की थी लेकिन सरकार ने नहीं सुनी। शहीद सैनिक के माता-पिता सरकार से गुहार लगते हुए वर्ष 2011 और 2009 में गुजर गए। राज्य सरकार ने वर्ष 2018 के जून में नोटिफिकेशन जारी की थी। नोटिफिकेशन में कहा गया था कि अगर शहीद होने वाला सैनिक कुंवारा है हो तो उसके मां-बाप शहीद के परिवार को मिलने वाले लाभ के हकदार होंगे। 

याचिकाकर्ता के इकलौते भाई ने अब एडवोकेट एच.सी. अरोड़ा के माध्यम से पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर क्लेम किया है कि उसके भाई की शहीदी के लाभ उसे मिलने चाहिए, जबकि सरकार का कहना है कि 2010 से पहले क्लेम करने वाले ही उक्त लाभ के हकदार हैं। कोर्ट को बताया गया कि मौत होने से पहले शहीद सैनिक के पिता व भाई ने सरकार को रिपै्रजैंटेशन दी थी लेकिन सरकार ने उस पर कार्रवाई नहीं की।

इसलिए वह भाई के शहीद होने के लाभ लेने का हकदार है। उसने 50 लाख रुपए की ग्रांट देने की मांग की है। जस्टिस तजिंद्र सिंह ढींडसा की कोर्ट ने याचिका पर सुनवाई करते हुए पंजाब सरकार व डिफैंस सॢवस वैल्फेयर बोर्ड के निदेशक को नोटिस जारी कर 19 अप्रैल तक जवाब दाखिल करने को कहा है।


Vatika

Recommended News