अस्पताल में ऑप्रेशन के दौरान अध्यापिका की हुई मौत, पुलिस ने हिरासत में लिए 2 डाक्टर

punjabkesari.in Wednesday, Jun 29, 2022 - 10:54 AM (IST)

गुरदासपुर (जीत मठारू, हेमंत): शहर में एक निजी अस्पताल में एक करीब 40 वर्ष की अध्यापिका की ऑपरेशन दौरान मौत हो गई। मृतक के पारिवारिक सदस्यों ने डाक्टर पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए रोष प्रदर्शन किया। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने अस्पताल के प्रबंधक और डाक्टर को गिरफ्तार कर लिया। मृतका प्रिमलजीत कौर निवासी शहीद भगत सिंह नगर जेल रोड गुरदासपुर सरकारी स्कूल पाहड़ा में तैनात थी।

इसके पिता अजीत सिंह निवासी बब्बेहाली और मृतक के पति सुखराज सिंह ने बताया कि प्रिमलजीत कौर के पित्ते में पथरी थी जिसके कारण आज उसे निजी अस्पताल में दाखिल करवाया गया था। डाक्टरों ने उसके सभी टैस्ट करवाए थे जिसकी रिपोर्टे नार्मल आई थी और आज डाक्टरों ने उस का ऑप्रेशन करने के लिए टाइम दिया था। वह सुबह 10 बजे के करीब अस्पताल आए। इसके बाद डाक्टर की तरफ से प्रिमलजीत कौर को दाखिल करके ऑप्रेशन की तैयारी शुरू कर दी गई। इस दौरान करीब 3 बजे प्रिमलजीत कौर को ऑप्रेशन थियेटर में ले गए और करीब 4 बजे डाक्टरों ने कहा कि प्रिमलजीत कौर को सांस की समस्या आई है। इसके कारण इसको किसी और अस्पताल लेकर जाना पड़ेगा परन्तु जब उसके पति ने जाकर देखा तो प्रिमलजीत कौर की पल्स रुक चुकी थी और पल्स मीटर की रीडिंग भी बंद हो गई थी। इसके बावजूद भी उन्होंने डाक्टरों के कहने पर उसे किसी अन्य अस्पताल ले जाने की कोशिश की परन्तु तब तक उसकी मौत हो चुकी थी।

PunjabKesari

मौत का पता लगने पर रिश्तेदार और गांव के लोग एकत्रित हो गए जिन्होंने अस्पताल के प्रबंधकों के खिलाफ रोष प्रदर्शन किया और मांग की कि अस्पताल के मालिक और डाक्टरों के खिलाफ पर्चा दर्ज किया जाए। उन्होंने आरोप लगाया कि डाक्टरों ने ऑप्रेशन करने के मामले में लापरवाही की है। इसके कारण प्रिमलजीत कौर की मौत हुई है।

रोष स्वरूप मृतक के परिजनों ने अस्पताल के सामने यातायात ठप्प करके रोष प्रदर्शन किया और कहा कि जितनी देर 3 डाक्टरों को गिरफ्तार नहीं किया जाता, उतनी देर रोष प्रदर्शन जारी रखा जाएगा। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर पिता-पुत्र 2 डाक्टरों को हिरासत में ले लिया। थाना प्रमुख ने कहा कि इस मामले में सारी जांच की जा रही है और जिसका भी कसूर सामने आएगा, उसके खिलाफ कानून के अनुसार बनती कार्रवाई की जाएगी।

दूसरी तरफ संबंधित डाक्टर ने पुलिस की हिरासत में जाने से पहले कहा कि उन्होंने कोई लापरवाही नहीं की। ऑप्रेशन दौरान महिला के दिल की धड़कन रुक गई थी जिसके कारण उक्त महिला की मौत हुई है। इसका मतलब यह नहीं कि अस्पताल में किसी किस्म की गलती हुई है।

अपने शहर की खबरें Whatsapp पर पढ़ने के लिए Click Here

पंजाब की खबरें Instagram पर पढ़ने के लिए हमें Join करें Click Here

अपने शहर की और खबरें जानने के लिए Like करें हमारा Facebook Page Click Here


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Kalash

Related News

Recommended News