जमीनी स्तर तक पार्टी मजबूत करने के लिए जुटें कार्यकर्ता:अश्विनी शर्मा

punjabkesari.in Tuesday, Jan 28, 2020 - 08:34 AM (IST)

चंडीगढ़(शर्मा): भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अश्विनी शर्मा ने अपना पदभार संभालने के बाद पहली बार सोमवार को प्रदेश भाजपा कार्यालय में संगठनात्मक बैठक की। इस दौरान अश्विनी शर्मा प्रदेश के पदाधिकारियों, जिलों के प्रभारियों, जिला भाजपा अध्यक्षों, जिला प्रवक्ताओं, जिलों के मोर्चा अध्यक्षों व नए चुने गए मंडल अध्यक्षों से रू-ब-रू हुए। इस अवसर पर उनके साथ प्रदेश संगठन महामंत्री दिनेश कुमार, प्रदेश महामंत्री प्रवीन बंसल, दयाल सिंह सोढी, राकेश राठौर भी उपस्थित थे। बैठक के दौरान शर्मा ने प्रदेश में भाजपा की सक्रियता बढ़ाने के लिए पार्टी की भविष्य की रणनीति कार्यकत्र्ताओं के साथ सांझा की व उस पर सबके सुझाव लिए। 
 
जनता के बीच रहने वाले कार्यकर्ताओं की जरूरत 
अश्विनी शर्मा ने कहा कि उनके पास चापलूसों व गुटबाजों का कोई स्थान नहीं है। उन्होंने कहा कि मुझे जनता के बीच रहने वाले कार्यकर्ताओं की जरूरत है और अगर वो उन्हें आधी रात को भी बुलाएंगे तो उनके बुलाने पर उनके घर पर खुद पहुंचेंगे। उन्होंने कहा कि वो हर जिले में 2 रात गुजारेंगे और वहां उस जिले के सभी पदाधिकारियों के साथ रू-ब-रू होंगे। उन्होंने जिला प्रभारियों को अपने-अपने जिले में जाकर पार्टी के विस्तार व वहां की टीमों के जल्द गठन के भी निर्देश दिए तथा राज्य के सभी 380 मंडलों तथा उनकी टीमों का जल्द गठन करने के निर्देश दिए। 

सी.ए.ए. बारे लोगों को करें जागरूक 
अश्विनी शर्मा ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार को नागरिकता संशोधन कानून (सी.ए.ए.) को पंजाब में लागू न करने पर आड़े हाथों लेते हुए कहा कि देश की संसद में पारित तथा देश के राष्ट्रपति द्वारा मंजूर किए गए कानून को कोई भी राज्य लागू करने से नहीं रोक सकता। शर्मा ने सभी कार्यकत्र्ताओं से सी.ए.ए. को लागू करवाने के लिए अपने-अपने इलाके की जनता को जागरूक करने का आह्वान किया।

सुखबीर व अश्विनी ने पंजाब की राजनीतिक स्थिति पर की चर्चा
शिरोमणि अकाली दल  अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने पंजाब भाजपा का अध्यक्ष चुने जाने पर अश्विनी कुमार को बधाई दी है। पंजाब भाजपा के नवनिर्वाचित अध्यक्ष पार्टी के जनरल सचिव समेत सोमवार को अकाली दल अध्यक्ष से एम.एल.ए. फ्लैट में उनके आवास पर मिलने आए थे। इस अवसर पर भाजपा अध्यक्ष का गर्मजोशी से स्वागत किया गया। दोनों नेताओं ने राज्य की वर्तमान राजनीतिक स्थिति तथा लोगों की समस्याओं के बारे में चर्चा की। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

swetha

Related News

Recommended News